आज का हेल्थ टिप्स: बेहद पौष्टिक आहार है दलिया, जानिए क्या हैं इसे खाने के फायदे?

कोलकाता : भारतीय व्यंजनों को कई प्रकार के स्वास्थ्य लाभ से परिपूर्ण माना जाता रहा है। दलिया, ऐसा ही एक आहार है, जिसे डॉक्टर पेट के लिए बहुत हल्का लेकिन सेहत के लिए पौष्टिक मानते हैं। अक्सर रोगियों को नाश्ते के रूप में दलिया खाने की सलाह दी जाती है, हालांकि इसका सेवन बिना किसी बीमारी वाले लोगों को भी नियमित रूप से करना चाहिए। टूटे हुए गेहूं से बना दलिया पचने में आसान और पोषण से भरपूर होता है। चूंकि दलिया में फाइबर की अच्छी मात्रा पाई जाती है, जो पेट को ठीक रखने के साथ, वजन घटाने और हल्के खाद्य पदार्थों का सबसे बेहतर विकल्प हो सकती है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक सभी लोगों को रोजाना सुबह के नाश्ते में दलिया का सेवन जरूर करना चाहिए। शरीर को शक्ति प्रदान करने के साथ रोजाना दलिया खाने वाले लोगों में कई प्रकार की सेहत से जुड़ी समस्याओं का खतरा कम होता है। आइए आगे की स्लाइडों में दलिया खाने से होने वाले फायदों के बारे में जानते हैं।
पौष्टिकता और ऊर्जा से भरपूर
रोजाना सुबह नाश्ते में एक कटोरी दलिया को शामिल करके शरीर के लिए आवश्यक कई पोषक तत्व आसानी से प्राप्त किए जा सकते हैं। दलिया,मैग्नीशियम और फाइबर का अच्छा स्रोत होता है। इतना ही नहीं नाश्ते में दलिया को शामिल करके शरीर के लिए पर्याप्त ऊर्जा प्राप्त की जा सकती है। नियमित व्यायाम सत्र के बाद इसे खाकर खोई हुई ऊर्जा को फिर से प्राप्त कर सकते हैं।
वजन कम करने में सहायक
रोजाना एक कटोरी दलिया खाने से वजन कम करने में मदद मिलती है। दलिया फाइबर से भरपूर होता है,जो आपको लंबे समय तक पेट भरा हुआ महसूस कराता है जिससे वजन घटाने में मदद मिलती है। इसमें कैलोरी भी कम होती है, यही कारण है कि जिन लोगों को वजन बढ़ने से संबंधित समस्या हो उनके लिए दलिया अच्छा विकल्प हो सकता है।
मधुमेह रोगियों के लिए फायदेमंद
मधुमेह रोगियों के लिए दलिया खाना अच्छा विकल्प हो सकता है। असल में इसकी ग्लाइसेमिक इंडेक्स और कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कम होती है जो इसे डायबिटीज रोगियों के लिए इसे फायदेमंद बनाती है। अध्ययनों से पता चलता है कि नमकीन दलिया का सेवन ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रण में रखता है साथ ही पाचन क्रिया को भी ठीक बनाए रखने में भी सहायक होता है।
कब्ज़ में फायदेमंद
अगर आपको अक्सर कब्ज बने रहने की समस्या होती है तो दलिया खाना आपके लिए अच्छा विकल्प हो सकता है। दलिया में फाइबर की उचित मात्रा पाई जाती है जो पाचन को ठीक रखने में मदद करने के साथ कब्ज को रोकती है। इतना ही नहीं, यह मल की स्थिरता में भी सुधार करती है, जो कब्ज को दूर करने में मदद करता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

अद्भुत! साधु ने 48 सालों से हवा में उठाया है एक हाथ, वजह चौंकानेवाली

शख्स ने 48 सालों से हाथ उठाया हुआ है और एक पल के लिए भी नीचे नहीं किया. यूं तो अमर भारती का नाम शायद आगे पढ़ें »

व‍िक्‍की कौशल को महंगी पड़ने वाली है जूते-चुराई की रस्‍म!

ब्रेकिंग: चण्डीतल्ला में एक ही परिवार के तीन लोगों की हत्या करने वाले आरोपी का शव स्टेशन से बरामद

कुत्ते को जिंदा जलानेवाले आरोपी पर 50 हजार का इनाम

भाजपा उम्मीदवार हैं मुश्किल में, दो कदम चलने को भी नहीं मिल रहा साथ

ड्रग्स के बदले जिस्म का सौदा : अहमदाबाद में बड़े घरों की 48 लड़कियां ड्रग्स के चक्रव्यूह से छुड़ाई गईं

Good News : महिला सुरक्षा पर ऑटो व कैब ड्राइवरों को प्रशिक्षण देगी कोलकाता ट्रैफिक पुलिस

आयरन व स्टील ग्रुप के यहां आयकर का छापा, 100 करोड़ के बेहिसाब धन का पता चला

बेहला में भाजपा की मह‌िला उम्मीदवार को लक्ष्य कर अश्लील टिप्पणी

नौकरी की आड़ में 5 साल में 30 लाख की साड़ी चुराकर बेची

ऊपर