मां लक्ष्मी की कृपा के लिए रविवार को करें ये उपाय, जानिए क्या है मान्यता

कोलकाता : हिंदू धर्म की मान्यताओं के अनुसार सप्ताह के प्रत्येक दिनों का अपना अलग महत्व होता है। ये दिन सूर्य देव को समर्पित होता है, इस कारण इस दिन की खास विशेषता होती है। कहा जाता है कि इस दिन विधि-विधान से सूर्य देव की पूजा करने से शुभ फलों की प्राप्ति होने की मान्यता है। ज्योतिषाचार्य मानते हैं कि जिन लोगों पर भगवान सूर्य प्रसन्न होते हैं उनका घर धन-धान्य से भरा होता है। मान्यता है कि जिन लोगों पर सदैव मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है, उन्हें कभी पैसों से संबंधी दिक्कतें होने लगती हैं। जानकार बताते हैं कि रविवार के दिन किये गए कुछ टोटके मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने में मदद करते हैं।
* मां लक्ष्मी के आगमन के लिए लोगों को रविवार के दिन शाम के वक्त शिव मंदिर जाएं और वहां गौरी शंकर को रुद्राक्ष चढ़ाएं। मान्यता है कि यदि लोग इस दिन इस उपाय को करते हैं तो घर में बरकत आएगी
* अगर रविवार के दिन किसी नए कार्य की शुरुआत करते हैं तो उससे पहले गुड़ या मिठाई खाकर पानी पी लेना चाहिए। वहीं, घर में बरकत लाने के लिए रविवार को आदित्य ह्रदय स्त्रोत का पाठ करना भी अत्यंत लाभकारी होगा।
* धन संबंधी दिक्कतों को दूर करने के लिए ज्योतिषाचार्य बताते हैं कि रविवार की रात को सोने से पहले एक गिलास में भरकर दूध लें और सिरहाने के पास रख लें। फिर अगले दिन सोमवार को सूर्योदय से पहले उठ जाएं और नहा-धोकर तैयार हो जाएं। इसके बाद गिलास से दूध को बबूल के पेड़ की जड़ में अर्पित करें। कम से कम 11 रविवार को नियमित रूप से ये उपाय करने से धन प्राप्ति के योग बनते हैं।
* रविवार के दिन भगवान सूर्य के ढ़ल जाने के बाद पीपल के पेड़ के नीचे दीपक जलाना चाहिए। मान्यता है कि इस उपाय का पालन करने से लोगों के मान-सम्मान और पद-प्रतिष्ठा में वृद्धि होती है। इस दिन चौमुखा यानी चार मुंह वाले दीपक को जलाना चाहिए।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

नदिया में ब्लैकमेल कर लगातार एक माह दुष्कर्म, गिरफ्तार युवक

नदियाः अश्लील वीडियो के बल पर महिला को ब्लैकमेल कर लगातार एक माह से बलात्कार कर रहे युवक को गिरफ्तार कर रविवार को पुलिस ने आगे पढ़ें »

ऊपर