लातेहार में हथियार के साथ तीन अपराधी गिरफ्तार

लातेहार : झारखंड की लातेहार जिला पुलिस ने हत्या, आगजनी एवं गोलीबारी से भय का माहौल बनाकर लेवी वसूलने वाले दो अलग-अलग गिरोह के तीन अपराधियों को हथियार के साथ गिरफ्तार कर लिया है।
अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी वीरेंद्र राम ने शनिवार को यहां बताया कि सुजीत सिन्हा एवं अनंत साहू गिरोह के सदस्य इन दिनों संवेदकों को फोन कर लेवी वसूलने का कार्य कर रहे थे। लेवी नहीं देने पर फर्जी आईडी से फोन कर जान से मारने की धमकी भी दे रहे थे। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस टीम ने रेलवे स्टेशन पर छापामारी अभियान चलाकर शुक्रवार को रेलवे स्टेशन के फाटक के पास से तीन अपराधियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। वीरेंद्र राम ने बताया कि गिरफ्तार अपराधियों में रांची डोरंडा निवासी आकाश कुमार राय उर्फ मोनू, बोकारो जिले के रामनगर कॉलोनी निवासी शेखर कुमार उर्फ सनी कुमार एवं रामगढ़ जिले के सुभाष नगर निवासी निरंजन कुमार शामिल हैं। इनके पास से पुलिस ने एक पिस्तौल, एक कारतूस, धमकी देने में इस्तेमाल किए गए पांच मोबाइल फोन, राउटर, धमकी भरे पत्र बरामद किए हैं। अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी ने बताया कि गिरफ्तार अपराधियों ने सुजीत सिन्हा एवं अमन साव के कहने पर बालूमाथ एवं चंदवा के रेलवे साइडिंग में दहशत फैलाने के उद्देश्य घटना को अंजाम दिया था। उन्होंने बताया कि सुजीत सिन्हा, अमन साव गिरोह विभिन्न क्षेत्रों में कार्यरत व्यवसायियों से फोन एवं व्हाट्सएप कॉल कर रंगदारी की मांग करता था। इसके बाद व्यवसायियों से यहीं दोनों बात कर रंगदारी की रकम तय करता था तथा रंगदारी वसूलता था। इस गिरोह द्वारा सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर संवेदकों एवं व्यवसायियों में दहशत फैलाया जा रहा था। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार शेखर कुमार उर्फ सनी अमन साव का जबकि आकाश राय सुजीत सिन्हा का करीबी बताया जाता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

शेयर मार्केट को लॉकडाउन अपडेट्स का इंतजार, निफ्टी- सेंसेक्स में 0.5% की गिरावट

नई दिल्ली : बुधवार के कारोबार के दौरान निफ्टी और सेंसेक्स में उतार-चढ़ाव देखा गया और 0.5% की गिरावट के साथ बंद हुआ।  एंजिल ब्रोकिंग आगे पढ़ें »

income tax office

आयकर 5 लाख रुपये तक के सभी लंबित आयकर रिफंड तत्काल जारी करेगा, 14 लाख करदाताओं को होगा फायदा

नई दिल्ली : कोरोना आपदा के मद्देनजर केंद्र सरकार ने आज कुछ बड़े राहत पैकेजो का ऐलान किया है। वित्त मंत्रालय ने एक प्रेस विज्ञप्ति आगे पढ़ें »

ऊपर