ऐसे मिलेगी चमकदार ऐसे

पौष्टिक और रेशेदार आहार लें: किसी भी चीज को स्वस्थ रखने की जिम्मेदारी सबसे ज्यादा आहार पर होती है। अगर आपका पाचनतंत्र ठीक नहीं है तो उसका सबसे पहला असर त्वचा पर पड़ता है। स्वस्थ त्वचा के लिए संतुलित और पौष्टिक आहार जरूर लें। साफ त्वचा के लिए आपको सही मात्रा में न्यूट्रिएंट्स और विटामिन्स की जरूरत होती है। चमकदार त्वचा के लिए प्राकृतिक प्रोटीनयुक्त भोजन जैसे- मछली, मेवे, ब्राउन राइस, ब्रोकली, टमाटर और चुकंदर आदि खाएं। इसी तरह विटामिन-सी त्वचा की रौनक को बढ़ा देता है। विटामिन-सी के सेवन से रंग साफ होता है और त्वचा पर बढ़ती उम्र के निशान नहीं आते। विटामिन-सी कॉलेजन की निर्माण प्रक्रिया को ठीक रखता है, जिसके कारण त्वचा पर दाग-धब्बे तथा पिग्मेंटेशन की समस्या नहीं होती। यही नहीं, त्वचा की यूवी किरणों से बचने की क्षमता भी बढ़ जाती है।
खूब पिएं पानी: ये तो हम सभी जानते हैं कि पानी और जूस पीने से स्वास्थ्य को लाभ पहुंचता है, पर डॉक्टर बिसारिया के अनुसार हमें अपने शरीर की जरूरत के हिसाब से ही पानी पीना चाहिए। पर्याप्त मात्र में पानी पीने से आपकी त्वचा को सबसे अधिक लाभ पहुंचता है, क्योंकि इससे त्वचा की सारी गंदगी साफ हो जाती है। पानी हमारे शरीर से टॉक्सिन और अन्य अशुद्धियों को बाहर कर देता है और शरीर में नमी की मात्रा को बरकरार रखता है। पानी रूखापन और झुर्रियां कम करने में भी मददगार है। साथ ही इससे शरीर की रोग प्रतिरोधी क्षमता भी मजबूत होती है।
तेज धूप से बचें: वैसे तो कहा जाता है कि धूप से हमें विटामिन- डी मिलता है, पर वो सिर्फ सुबह सात बजे से नौ बजे तक की धूप से ही मिलता है। उसके बाद तो सूरज की यूवी किरणें आपकी त्वचा को सिर्फ नुकसान ही पहुंचाती हैं। ये किरणें न केवल त्वचा का टेक्सचर खराब करती हैं बल्कि इनसे स्किन कैंसर होने का भी खतरा रहता है। धूप के नकारात्मक प्रभाव से बचने के लिए एक अच्छा सनस्क्रीन लोशन लगाना बहुत जरूरी है। सनस्क्रीन केवल बाहर जाते समय ही नहीं,बल्कि घर या ऑफिस के अंदर बैठे रहने पर भी लगाएं, क्योंकि आपके लैपटॉप, एलईडी लाइट्स आदि से भी हानिकारक यूवी किरणें निकलती हैं।
त्वचा की नमी बनाए रखें: एक अच्छी त्वचा के लिए उसका अंदर और बाहर दोनों से नम होना बेहद जरूरी है। दिन में दो बार से ज्यादा फेसवॉश का इस्तेमाल न करें। अगर इससे ज्यादा बार चेहरा धोना है तो इसके लिए बेहद माइल्ड फेसवॉश या सिर्फ पानी का इस्तेमाल करें। याद रखें कि चेहरे को बहुत ज्यादा धोने से भी रूखेपन की समस्या हो सकती है। आपकी त्वचा द्वारा बनाया गया प्राकृतिक तेल उसे सुंदर और चमकदार बनाने के लिए बहुत जरूरी है। इसी के साथ मुंह को ठंडे पानी से जरूर धोएं। गर्म पानी रोमछिद्रों को खोल देता है और उनमें गंदगी और बैक्टीरिया आसानी से जमा हो जाते हैं। ठंडे पानी से छिद्र बंद हो जाते हैं और बाहर की गंदगी को त्वचा के अंदर जाने का कोई रास्ता नहीं मिलता।
मुहांसों की देखभाल करें: साफ और चमकदार त्वचा के लिए मुहांसों और दानों का खास ध्यान रखें। हम आदतन अपने मुंह पर होने वाली छोटी-बड़ी फुंसियों और मुहांसों को फोड़ देते हैं, जिससे बाद में त्वचा लाल हो जाती है और उस पर निशान पड़ जाते हैं। यही नहीं, ऐसा करने से इंफेक्शन भी फैल जाता है और मुहांसे और ज्यादा निकलने लगते हैं। त्वचा पर काले-काले धब्बे भी हो जाते हैं, जिन्हें ठीक होने में और ज्यादा वक्त लगता है।
तनाव से दूर रहें: एक अच्छी और चमकदार त्वचा के लिए शरीर को पर्याप्त आराम देना भी जरूरी है। एक स्वस्थ जीवन के साथ बेदाग त्वचा के लिए अच्छी नींद लें। तनाव से त्वचा ज्यादा तेल बनाने लगती है, जिससे व्हाइटहेड्स की समस्या बढ़ जाती है। चुस्त दिमाग और स्वस्थ त्वचा के लिए 7-8 घंटे की नींद लें। इसी के साथ व्यायाम, खेलकूद, योग, डांस जैसी शारीरिक गतिविधियां भी खून में ऑक्सीजन का प्रवाह बढ़ाती हैं। इससे त्वचा सेहतमंद बनती है। अगर आप नियम से हर दिन कोई-न-कोई व्यायाम आदि करती हैं तो इसका असर जल्द ही आपको त्वचा पर नजर आने लगेगा। आपकी त्वचा पहले से ज्यादा खूबसूरत हो जाएगी।
चेहरा धोए बिना सोना
खूबसूरत और चमकदार त्वचा चाहिए तो रात में सोने से पहले बिना चेहरा धोए कभी न सोएं। अपना आलस छोड़कर अगर आप दो मिनट चेहरे को साफ करने में लगाएंगी तो आपकी त्वचा हमेशा तरोताजा रहेगी। चेहरे पर चिपकी गंदगी और मेकअप के साथ अगर आप सोती हैं तो रोमछिद्र बंद हो जाएंगे और मुहांसे आपको परेशान कर सकते हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

आजमाएं धूप के ये टोटके, सभी परेशानियां होंगी दूर

नई दिल्ली : सनातन धर्म में धूप-दीप और हवन का खास महत्व है। कई परिवार में रोजाना धूप-दीप दिखाया जाता है। कहते हैं कि धूप आगे पढ़ें »

आजमाकर देखें आटे का यह चमत्कारी उपाय, नहीं होगी धन की समस्या

कोलकाता : कोरोना वायरस के चलते यह साल पूरी तरह बाधित रहा है। काम-धंधे को छोड़कर लोग अपने घरों में बंद रहने को मजबूर हो आगे पढ़ें »

ऊपर