पेशी पर आया चोर चकमा देकर हुआ फरार, 3 पुलिस कर्मी निलंबित

आजमगढ़ : उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ में चोरी के आरोप में न्यायालय में पेशी के लिए लाये गये एक चोर के फरार हो जाने के बाद पुलिस अधिक्षक ने 3 पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया। पुलिस अधीक्षक एसपी त्रिवेणी सिंह ने बुधवार को इस बात की जानकारी दी। बताया जा रहा है कि घंटो बाद भी चोर को पुलिसकर्मी नहीं ढूंढ सके। न्यायालय में पेशी के लिए लेकर आये दोनों पुलिसकर्मियों से भी पूछताछ के साथ ही घटना की छानबीन चल रही है। दोषी के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी।

न्यायालय में पेशी के दौरान भागा अपराधी

पुलिस अधीक्षक एसपी त्रिवेणी सिंह ने बुधवार को यहां बताया कि मंगलवार को आजमगढ़ के जहानागंज थाने की पुलिस चोरी के आरोप में रामअवध और राजकुमार को गिरफ्तार कर सीजेएम न्यायालय में पेशी के लिए लेकर आयी थी। इसी दौरान न्यायालय परिसर से रामअवध दोनों पुलिसकर्मीयों को चकमा देकर फरार हो गया।

घंटो बाद भी नहीं मिला चोर

चोर के फरार होने पर पहले दोनों पुलिसकर्मीयों ने अपने स्तर से खोजबीन शुरू किया। लेकिन जब घंटो बाद भी चोर को पुलिसकर्मी नहीं ढूढ सके, तो अधिकारियों को सूचना दी। सिंह ने बताया कि सूचना के बाद पुलिस के आला अधिकारी न्यायालय पहुंचे और पूरे जिले में सघन चेंकिंग अभियान शुरू किया गया लेकिन, देर शाम तक चोर पुलिस के हाथ नहीं लग सका।

दोषी के खिलाफ होगी कार्रवाई

फरार चोर की तलाश में पुलिस टीमें लगी हुई है। न्यायालय में पेशी के लिए लेकर आये दोनों पुलिसकर्मियों से भी पूछताछ के साथ ही घटना की छानबीन चल रही है। जो भी दोषी पाया जायेगा उनके खिलाफ कार्रवाई की जायेगी। सिंह ने बताया कि इस मामले में एसआई रामबहादुर यादव, मुख्य आरक्षी उमाशंकर सिंह, आरक्षी अजय कुमार को निलंबित कर दिया गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बिहार और झारखंड में ओडिशा के सांसद स्थापित करेंगे नि:शुल्क शिक्षण संस्थान

भुवनेश्वर : ओडिशा के कलिंग इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज (कीस) की कामयाबी से उत्साहित उसके संस्थापक डॉ. अच्युत सामंत ने कहा है कि वह गरीबी आगे पढ़ें »

जिस दिन जनसंख्या नियंत्रण कानून आ गया उसी दिन संन्यास ले लूंगा : गिरिराज सिंह

कटिहार : केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह का कहना है कि जिस दिन देश में जनसंख्या नियंत्रण कानून लागू हो गया, वह उसी दिन राजनीति से आगे पढ़ें »

ऊपर