एसिडिटी-कब्ज व सिरदर्द के तकलीफ में राहत देंगे ये 5 टिप्स

कोलकाता : मिठाइयां और पारंपरिक व्यंजन त्योहार को ज्यादा रंगीन और खुशनुमा बनाते हैं। इन चीजों के बिना त्यौहार की कल्पना तक नहीं की जा सकती है। हालांकि ये ट्रेडिशनल फ्राइड फूड और मिठाइयां हमारी सेहत को नुकसान भी पहुंचाते हैं। ये एसिडिटी, ब्लॉटिंग (पेट फूलना) और कब्ज जैसी दिक्कतों को बढ़ावा देते हैं। यदि आप भी फेस्टिव सीजन में ऐसी किसी समस्या से जूझते हैं तो इन्हें 5 तरीकों से दूर किया जा सकता है।
गुलकंद का पानी- रात को पार्टी के बाद सुबह जब आप नींद से जागेंगे तो आपको एसिडिटी, पेट फूलना, कब्ज या सिर भारी होने जैसी तकलीफ महसूस हो सकती है। ऐसे में गुलकंद के पानी के साथ दिन की शुरुआत करना बेहतर होगा। एक चम्मच गुलकंद एक गिलास पानी में मिलाएं और इसे अच्छी तरह मिलाकर पी जाए। इसमें मौजूद गुलाब की पत्तियों को अच्छी तरह चबाएं। आपको थोड़ी ही देर में राहत मिल जाएगी।
सुबह की नींद- डॉक्टर्स कहते हैं कि सुबह ब्रेकफास्ट के बाद 15 से 20 मिनट की छोटी सी नींद भी आपको बड़ा आराम देगी। सुबह के वक्त अगर आंतों की अच्छे से सफाई ना हो तो हम चिढ़चिढ़े हो जाते हैं। यह तरकीब आजमाने से आपको बड़ा फायदा होगा और दिवाली पार्टी से पैदा हुई दिक्कतें भी दूर होंगी।
लंच में केला खाएं- बच्चों में कब्ज की दिक्कत को दूर करने के लिए यह नुस्खा बहुत काम आता है। अगर दिवाली पार्टी के बाद आप भी कब्ज से परेशान हैं तो लंच में रोटी, सब्जी, दाल, चावल के बाद एक या दो केले खा लें। न्यूट्रिशनिस्ट इसे कब्ज दूर करने का बेहतरीन फॉर्मूला मानते हैं।
2 से 5 मिनट का सुप्तबद्ध कोणासन– पेट फूलने की समस्या अक्सर शाम से शुरू होती है। अगर आप भी ऐसा महसूस करें तो 2 से 5 मिनट का सुप्तबद्ध कोणासन बड़ा कारगर साबित हो सकता है। इसे करने के लिए फर्श पर कमर के बल लेट जाइए और पीठ के लिए एक गोल तकिया रख लीजिए। इसके बाद घुटनों से पैर को मोड़ते हुए दोनों पंजों को आपस में चिपका लीजिए और जितना हो सके उन्हें फैलाने की कोशिश कीजिए। पेट फूलने की समस्या से आपको जल्दी ही राहत मिल जाएगी।
घी के साथ राइस पेज- फेस्टिवल सीजन में ओवरईटिंग का खास ध्यान रखना चाहिए। हाई शुगर फूड खाने से कई तरह की दिक्कतें पैदा हो सकती हैं। अगर आपका सामना ऐसी किसी तकलीफ से हो तो घी के साथ राइस पेज का सेवन आराम दे सकता है। इसके लिए चावल को ढेर सारे पानी में उबालिए ताकि वो किसी सूप की तरह तैयार हो। इसके बाद इसे किसी कप में निकाल लीजिए और उसमें दो चम्मच घी मिलाइए। आपको जल्दी ही पेट से जुड़ी समस्याओं से राहत मिल जाएगी।

 

Visited 318 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

Wednesday Mantra : हर संकट से बचाता है बुधवार का यह उपाय, दूर होता है गृह कलेश

कोलकाता : सनातन धर्म में बुधवार का दिन भगवान गणेश को समर्पित है और इस दिन विधि-विधान के साथ गणेश जी की अराधना की जाए आगे पढ़ें »

Sankashti Chaturthi 2024 Date: द्विजप्रिय संकष्टी चतुर्थी कब है, जानें महत्‍व, पूजाविधि और …

कोलकाता : द्विजप्रिय संकष्टी चतुर्थी फाल्‍गुन मास के कृष्‍ण पक्ष की चतुर्थी को कहते हैं। द्विजप्रिय संकष्टी चतुर्थी 28 फरवरी को यानी आज है। इस आगे पढ़ें »

ऊपर