दोस्त ने घर आने से किया मना तो भरे बाजार उसकी पत्नी के काटे अंग-अंग

भागलपुर : भागलपुर के पीरपैंती में वीभत्स हत्या को अंजाम दिया गया। दोस्त ने घर पर आने से रोक लगा दी तो उसकी पत्नी पर भरे बाजार हमला कर दिया। दोनों हाथ काट दिए। उसी धारदार हथियार से पीठ काट दिया। स्तन भी। सिर पर भी कई वार किए।
शायद उसका दोष सिर्फ इतना था कि उसके पति ने शकील मियां को घर आने से मना किया था। शकील मियां पहले अक्सर घर आता था, लेकिन जब उसके दोस्त को लगा कि मना करना चाहिए तो मना कर दिया। शकील मियां को यह इतना नागवार गुजरा कि उसने दोस्त की पत्नी पर भरे बाजार हमला कर दिया। दोनों हाथ काट दिए। उसी धारदार हथियार से पीठ काट दिया। स्तन भी। सिर पर भी चाकू से कई वार किए। दर्द से छटपटाती महिला को लोग इस अस्पताल से उस अस्पताल ले गए, लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका। भागलपुर के पीरपैंती थाना क्षेत्र की इस घटना में महिला ने मौत से पहले दोषी का नाम बता दिया, जिसका वीडियो अब वायरल है।
अस्पतालों की दौड़ में हो गई मौत
पीरपैंती में सिंघिया पुल के पास देर शाम नीलम देवी को शकील मियां ने वीभत्स तरीके से घायल कर दिया था। महिला को लोगों ने किसी तरह अनुमंडल अस्पताल में भर्ती कराया, लेकिन वहां संभलने वाली बात नहीं थी। फिर परिजन महिला को जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज अस्पताल ले जाने लगे, लेकिन वहां वह पोस्टमार्टम के लिए ही पहुंच सकी। घटना के बाद परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। पोस्टमार्टम के साथ पुलिस मामले की जांच में जुटी।
मुख्य आरोपी पकड़ से अब भी बाहर
महिला के पति का कहना है कि शकील मियां पहले घर आता था और चूंकि किसी कारणवश उसे रोक दिया इसलिए गुस्से में उसने घटना को अंजाम दिया है। घटना के बाद महिला ने भी हमलावर का नाम बताया। इसकी रिकॉर्डिंग आसपास के लोगों ने की थी। इतनी वीभत्स हत्या के बाद भी पुलिस शकील मियां को गिरफ्तार नहीं कर सकी। पुलिस ने उसे छोड़ पांच लोगों को हिरासत में लिया है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राज्यपाल को लेकर भाजपा ने दी गृह मंत्रालय को रिपोर्ट

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : गत नवम्बर महीने में पश्चिम बंगाल के स्थायी राज्यपाल बने डॉ. सी. वी. आनंदा बोस के बारे में भा​जपा नेताओं ने सोचा आगे पढ़ें »

सागरदिघी उपचुनाव के लिए हुआ कांग्रेस और वाम का समझौता

सागरदिघी उपचुनाव के लिए हुआ कांग्रेस और वाम का समझौता सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : 2021 के विधानसभा चुनाव के बाद उपचुनावों में भी वाम-कांग्रेस का समझौता आगे पढ़ें »

ऊपर