जीते जी बेटी का पिता ने किया अंतिम संस्कार

 

चतरा : चतरा जिले के टंडवा में एक पिता ने अपनी जीवित बेटी की शव यात्रा निकाली। हालांकि इस शव यात्रा में अर्थी पर बेटी के शव की जगह उसके पुतले को लेटाया गया था। लड़की की मां ने भी अर्थी को कंधा दिया और पूरी रीति-रिवाजों के साथ बेटी के पुतले का अंतिम संस्कार कर दिया। दरअसल, धनगडा पंचायत के खरीका गांव में रहने वाली सबिता (25) ने गांव में ही रहने वाले चचेरे भाई से लव मैरिज कर ली। माता-पिता समेत अन्य परिजनों ने उसे काफी समझाया लेकिन इसके बावजूद लड़की नहीं मानी। लड़की की कहीं और सगाई भी हो चुकी थी। मामला थाने तक पहुंचा लेकिन वहां भी सबिता अपने प्रेमी राजदीप के साथ ही जिंदगी बिताने पर अड़ी रही। इसके बाद लड़की के पिता ने बेटी का अंतिम संस्कार करने का फैसला किया और लड़की के जिंदा रहते हुए उसका पुतला बना कर अंतिम संस्कार कर दिया। ग्रामीण सूत्रों ने बताया कि युवती का प्रेम-प्रसंग कई वर्षों से चल रहा था। दोनों रांची में रह कर कॉलेज में पढ़ाई करते थे। रिश्ते में भाई-बहन होने के बावजूद दोनों ने फरवरी में शादी कर ली।

शेयर करें

मुख्य समाचार

चैती छठ : आज अस्‍तगामी सूर्य को दिया जाएगा अर्घ्य

कोलकाताः चैत्र मास का चार द‍िवसीय चैती छठ व्रत का आज तीसरा दिन है और व्रती आज अस्त होते सूर्य को अर्घ्य देकर सूर्य देव आगे पढ़ें »

कोविड-19 पॉजिटिव एक मतदाता ने पीपीई किट पहन किया मतदान

लोकतंत्र के महापर्व मतदान के प्रति जागरूकता की उत्कृष्ट मिशाल पेश की देर शाम लोगों की भीड़ कम होने के बाद किया मतदान कहा- लोकतंत्र के इस आगे पढ़ें »

ऊपर