इसलिए अगरबत्ती से पूजाघर को महकाना है जरूरी, मिलते हैं इतने लाभ

कोलकाता : अपने घर का निर्माण करते हुए हम उसमें पूजा घर बनवाना नहीं भूलते हैं लेकिन पूजाघर बनवाने के साथ वहां पर भगवान की पूजन सामग्री का ध्यान रखना भी हमारे लिए उतना ही आवश्यक है। इन्हीं पूजा की वस्तुओं में से एक है अगरबत्ती, ज्योतिषविद्या की मानें तो अगरबत्ती जलाने से घर में सकारात्मक ऊर्जा बनी रहती है। यह भी धार्मिक मान्यता है कि भगवान को अगरबत्ती प्रिय होती है जैसे हम भगवान को भोग लगाते और आरती करते हैं वैसे ही ईश्वर के सामने अगरबत्ती जलाने से भी लाभ होता है। अगरबत्ती के साथ भगवान के सामने कपूर, लोबान, घी, गुग्गल, चंदन जलाना भी शुभ फलदायी साबित हो सकता है।
सुख-समृद्धि की होती है प्राप्ति
अगरबत्ती जलाने से घर में घर में सुख और समृद्धि आती है। अगरबत्ती जलाने से निकलने वाला धुआं घर में मौजूद बुरे प्रभाव यानी नकारात्मक ऊर्जा को समाप्त करता है। अगरबत्ती के धुएं से वातावरण भी शुद्ध और पवित्र हो जाता है इसलिए घर-मंदिर में सुबह और के समय अगरबत्ती जलाई जाती है। वातावरण सुगंधित हो जाता है और वास्तु दोष दूर होता है। यह भी माना जाता है कि घर की नकारात्मक ऊर्जा सकारात्मक ऊर्जा में बदल जाती है। अगरबत्ती जलाने से मां लक्ष्मी भी प्रसन्न रहेंगी और कभी भी आपके घर में धन की कमी नहीं होगी।
बनी रहती है सकारात्मक ऊर्जा
घर में लंबे समय से चल रही समस्या से मुक्ति पाने के लिए कपूर, लोबान, घी, गुग्गल, चंदन को गाय के गोबर से बना एक कंडा जलाएं जब इसमें धुआं निकलना बंद हो जाएं तो इन पांचों चीजों को अंगारों में डाल दें। इसके बाद जो धुंआ निकलेगा उसे आप पूरे घर में फैलाएं। मान्यता है कि ऐसा करने से घर सकारात्मक ऊर्जा से भर जाता है।
आर्थिक परेशानी होती है दूर
अगर घर के लोगों में अक्सर कलह-कलेश और मनमुटाव बना रहता है तो नियमित रूप से गुग्गल की धूप जलाएं। ऐसा करने से घर का वातावरण शांत बना रहेगा। वास्तुशास्त्र की मानें तो सुबह शाम अगरबत्ती जलाने से आर्थिक परेशानी भी दूर होती है।
मन रहता है शांत
अगरबत्ती का धुआं नुकसान पहुंचाने वाले बैक्टीरिया भी समाप्त करने में मददगार माना गया है और आपको सेहतमंद बनाए रखने में भी उपयोगी है। जिस वजह से हमने गौर किया होगा कि अस्पतालों में भी अक्सर अगरबत्ती या धूप का प्रयोग किया जाता है वैसे तो अगरबत्ती आमतौर को पूजा की लिए बनाया जाता है लेकिन स्वास्थ पर अच्छा प्रभाव पड़ता है। यह भी माना जाता है कि इससे आने वाली सुगंध हमारे मन को शांत रखती है।व्यवसाय में भी है लाभकारी
अपने काम करने की जगह भी सुबह शाम अगरबत्ती या धूप अवश्य जलाना भी लाभकारी साबित हो सकता है। हालांकि जलाते समय इस बात का ध्यान भी अवश्य रखें कि जब भी आप अगरबत्ती जलाएं तो एक ही स्थान पर ही रखकर जलाना चाहिए क्योंकि इस से उस जगह मौजूद नकारात्मक ऊर्जा दूर होगी, सकारात्मकता प्रवेश होगी जिससे आपके काम-व्यापार में भी लाभ होगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

महानगरः मार्केट खुलने के एक महीने में भी पटरी पर नहीं लौट पा रहा व्यवसाय

कोरोना काल, ट्रेनों का बंद रहना और तीसरी लहर के डर से नहीं हो रही भीड़ सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : कोरोना वायरस की दहशत कुछ कम होने आगे पढ़ें »

ऊपर