पलामू में बढ़ रहा टेंडर मैनेज और जमीन का काला कारोबार

पलामूः पलामू जिले में टेंडर मैनेज और जमीन का कारोबार अपराध का पोषक तत्व बन गया है। हाल के आपराधिक घटनाओं को देखें तो जमीन कारोबार को लेकर कई बड़ी हत्याएं हुईं हैं। टेंडर मैनेज के साथ अब आपराधिक गिरोह की नजर जमीन के कारोबार पर पड़ गई है और तेजी से अपने कब्जे में ले रही हैं। इससे आपराधिक संगठन में शामिल सदस्यों को लाखों रुपया मिल रहा है। आपराधिक संगठन भवन, रोड, ग्रामीण विकास, सिंचाई विभाग के टेंडर को अधिक मैनेज कर रहे है।
जानकारी के अनुसार एक टेंडर मैनेज पर योजना की लागत का 2 से 5% हिस्सा मैनेज करवाने वाले आपराधिक संगठन को मिलता है। अपराधियों के पास टेंडर की पूरी प्रक्रिया की जानकारी पंहुचती है, जबकि जमीन के कारोबार में प्रतिडिसमिल 50 हजार से 5 लाख रुपये अपराधी गिरोह कमा रहे हैं। जमीन के कारोबार का नेटवर्क पूरे पलामू में फैला हुआ है। डर के कारण लोग अपनी जमीन भी छोड़ दे रहे हैं। जेएमएम नेता सह अधिवक्ता ओमकार नाथ जायसवाल बताते है कि यह समाज के लिए दीमक की तरह है। हालांकि पुलिस और प्रशासन सख्त है। पलामू एसपी संजीव कुमार ने बताया कि पुलिस ने आपराधिक गिरोहों को चिन्हित कर उनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

चुनाव में 60 से 80 सीटों पर लड़ सकती है सिद्दकी की नयी पार्टी

फुरफरा शरीफ के पीरजादा बनाएंगे मुस्लिम, दलितों और आदिवासियों की पार्टी 21 को होगा नाम का ऐलान सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : राज्य में अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव होने आगे पढ़ें »

सन्मार्ग वाद-संवाद ः पूर्वी भारत का सबसे बड़ा बौद्धिक मंथन आज

कोलकाता ः पूर्वी भारत के सबसे बड़े हिन्दी बौद्धिक मंथन 'सन्मार्ग वाद संवाद-2021' का आयोजन आज शनिवार यानी 16 जनवरी की शाम बीआरसी लॉन्स में आगे पढ़ें »

ऊपर