साल के पहले दिन ही कर लें ये उपाय, शनि देव की खत्म होगी नाराजगी, बनी रहेगी कृपा

कोलकाता : नए साल 2022 की शुरुआत होने में कुछ ही दिन बाकी हैं। ऐसे में हर कोई नए साल पर नई शुरुआत करना चाहता है। भगवान के आशीर्वाद के साथ ये शुरुआत हो तो पूरा साल अच्छा गुजरता है। 1 जनवरी 2022 को शनिवार होने के कारण शनि भक्तों को शनि देव का आशीर्वाद प्राप्त करने का एक खास मौका मिल रहा है। शनि देव को न्याय का देवता कहा जाता है। लोगों के अच्छे-बुरे कर्मों का हिसाब शनि देव  ही रखते हैं। कहते हैं कि शनि देव  की कृपा बनाए रखने के लिए उनकी पूजा-अर्चना और कुछ विशेष उपाय करने मात्र से ही वे प्रसन्न हो जाते हैं। साल की शुरुआत में ये कुछ उपाय करके आप उनकी नाराजगी को दूर कर सकते हैं और सालभर उनकी कृपा बनाए रख सकते हैं। आइए जानते हैं शनिवार के दिन क्या उपाय  करें।

साल की शुरुआत में पाएं शनिदेव और भोलेनाथ की कृपा

मान्यता है कि साल की शुरुआत शुभ कार्यों के साथ की जाए, तो पूरा साल शुभ फलों की प्राप्ति होती रहती है। वर्ष 2022  के पहले ही दिन शनि देव और भोलेनाथ की पूजा  का संयोग बन रहा है। शास्त्रों में बताया गया है कि शनि देव  भगवान शिव  के परम भक्त हैं। वही, भगवान शिव  ने ही शनि देव  को सभी ग्रहों में न्यायधीश और कर्म का देवता बनाया हुआ है। ऐसे में अगर साल के पहले ही दिन दोनों की पूजा की जाए, तो सालभर इनकी कृपा बनी रहेगी।
साल के पहले दिन है मासिक शविरात्रि

साल के पहले ही दि शनिवार पड़ रहा है और साथ ही इस दिन पौष माह के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी और चतुर्दशी भी साथ ही पड़ कही है। ऐसे में भगवान शिव का प्रिय व्रत मासिक शिवरात्रि भी साल के पहले ही दिन है।  इस दिन अमृत और सिद्ध योग भी बन रहा है। ऐसे में भगवान शिव और शनि देव दोनों का आशीर्वाद एक ही दिन पाया जा सकता है

साल के पहले दिन करें ये उपाय 

-साल 2022 के पहले ही दिन शाम के समय मंदिर जाकर शनि देव की पूजा करें।

– इस दिन शनि देव  के सामने सरसों के तेल  का दीपक अवश्य जलाएं।

– शनिवार के दिन काली उड़द का दान करें। साथ ही, गरीबों में काला कंबल बांटें।

– साल की शुरुआत में पीपल के पेड़ पर जल चढ़ाकर सात बार परिक्रमा करें।

– साल का पहला ही दिन शनिवार होने के कारण शनि चालीसा और शनि के मंत्र ऊं शं शनैश्चराय नमः का जाप करें।

– मान्यता है कि हनुमान चालीसा का पाठ करने वाले इंसान पर कभी भी शनि देव की खराब दृष्टि नहीं पड़ती। साल की शुरुआत हनुमान चालीसा के पाठ के साथ करें।

– इस दिन भगवान शिव का रुद्राभिषेक करें। और ऊं नम: शिवाय का जाप करें।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

एक बार बस करें चीनी से यह उपाय, किस्मत….

कोलकाताः कई लोग जीवन में तरक्की हासिल करने के लिए कड़ी मेहतन करते हैं, पर फिर भी उनका संघर्ष जारी रहता है। इतनी मेहनत करने आगे पढ़ें »

ऊपर