निलंबित इंस्पेक्टर ने पत्नी, सास और प्रेमी को मारी गोली

Suspended inspector shot dead wife, mother-in-law and boyfriend

जमशेदपुर : शहर के सोनारी थानाक्षेत्र के नौलखा अपार्टमेंट में रहने वाले एक ‌निलंबित पुलिसकर्मी ने शुक्रवार को अपने ही परिवार के तीन लोगों को गोली मार दी। घटना में एक महिला की मौत हो गई जबकि दो अन्य घायल को गंभीर हालत में टाटा मेन हॉस्पिटल (टीएमएच) में भर्ती कराया गया है। घटना के बाद से आरोपी पुलिसकर्मी फरार है जबकि सूचना के बाद एसपी अनूप बिरथरे मौके पर पहुंच जांच पड़ताल में जुट गए हैं। आरोपी पुलिस इंस्पेक्टर पहले से निलंबित चल रहा है। वह पहले पश्चिमी सिंहभूम जिले के गुदड़ी थाना में थानेदार था। बताया जा रहा है कि पुलिस इंस्पेक्टर मनोज गुप्ता की पत्नी पूनम गुप्ता अपने प्रेमी चंदन और उसकी मां सीमा देवी के साथ शुक्रवार की सुबह ही पटना से जमशेदपुर लौटी थी। सभी लिफ्ट अपने फ्लैट में दाखिए हुए। यह देखकर मनोज ने आपा खो बैठा और अपने सर्विस रिवाल्वर से पत्नी उसके प्रेमी और उसकी मां को गोली मार दी। प्रेमी पटना के मीठापुर का ही रहने वाला है।

सास ने बताया प्रेमी नहीं भाई है

इंस्पेक्टर मनोज गुप्ता का पत्नी से विवाद चल रहा था। पत्नी ने उसके खिलाफ प्रताड़ना की शिकायत जमशेदपुर के बिष्टुपुर थाना में की। इसी के बाद मनोज गुप्ता को निलंबित किया गया था। इंस्पेक्टर की सास कैलाश देवी ने बताया कि मनोज गुप्ता पत्नी और बच्चों की हमेशा मार-पिटाई करता था। इसी से तंग आकर पूनम पटना चली गई थी। इधर, मनोज लगातार समझौते के लिए मना रहा था। बच्चों के भविष्य को देखते हुए समझौते के लिए ही सभी आए, लेकिन मनोज ने ऐसी हरकत कर दी। कैलाश देवी ने बताया कि जिस युवक को गोली लगी है वह पूनम का प्रेमी नहीं, मुंहबोला भाई है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

जेयू मामले में प्रशासन पूरी तरह से फेल था – राज्यपाल

वीसी ने अपने कर्तव्य नहीं निभाये ‘जो भी किया संविधान के दायरे में किया’ जाने से पहले सीएम से कई बार हुई थी बात सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : जादवपुर आगे पढ़ें »

राजीव को पकड़ने के लिए बंगाल से यूपी तक छापे

राजीव कहां हैं सीबीआई ने पूछा पत्नी से टारगेट पूरा करने के लिए बनाया गया स्पेशल कंट्रोल रूम सीबीआई का अनुमान - जगह बदल-बदल कर रह रहे हैं आगे पढ़ें »

ऊपर