राजद विधायक के बिगड़े बोल- ‘राजपूत नहीं थे सुशांत सिंह’, महाराणा प्रताप के पुरखे आत्महत्या नहीं करते

पटना : बॉलीवुड के दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत कैसे हुई, इसकी जांच सीबीआई कर रही है। इस मामले में कुछ गिरफ्तारियां भी हो चुकी हैं। वहीं दूसरी ओर बिहार में सुशांत को लेकर राजनीति भी खूब हो रही है। इस बीच बिहार की प्रमुख विपक्षी पार्टी राजद के विधायक अरुण यादव ने दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के खिलाफ विवादास्पद टिप्पणी करते हुए कहा कि वह ‘राजपूत’ नहीं हो सकते, क्योंकि महाराणा प्रताप के वंश से जुड़े लोग आत्महत्या नहीं कर सकते। महाराणा प्रताप राजपूतों का पुरखा हैं तो वह यादवों के भी हैं। हमको दुख है, सुशांत सिंह राजपूत को डोरी बांध कर नहीं मरना चाहिए था। वह राजपूत था, मुकाबला करता। राजपूत डोरी बांध कर मरता है? यदि सीबीआई जांच हो, जो होगा काम करेगा, लेकिन हम इस बात से दुखी हैं।’ सुशांत सिंह राजपूत पर विवादास्पद टिप्पणी देकर राजद विधायक ने विवाद बढ़ा दिया है। जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद ने कहा कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर राजद विधायक के बयान से ज्यादा विचित्र और शर्मनाक बयान नहीं हो सकता है। विधायक को राज्य के लोगों और सुशांत के प्रशंसकों से माफी मांगनी चाहिए।

जातिवादी मानसिकता से ग्रसित है राजद : भाजपा
राजद विधायक के विवादित बोल पर भाजपा ने करारा हमला बोला है। पार्टी प्रवक्ता निखिल आनंद ने कहा कि सुशांत को लेकर राजद विधायक का बयान अनर्गल है और जातिवादी मानसिकता से ग्रसित है। तेजप्रताप ने भी रघुवंश प्रसाद को समंदर में एक लोटा पानी बताकर बाहर फेंकने की बात कही थी। राजद के नेता इस तरह की घटिया बयानबाजी के लिए बने हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कोरोना काल में देश के नाम 7वां संबोधन, जानें पीएम के भाषण की बड़ी बातें

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को देश के नाम संदेश दिया। कोरोना काल में ये उनका 7वां संबोधन था। पीएम मोदी ने आगे पढ़ें »

मंदिर की चौखट पर युवक की गला रेतकर हत्या

मिर्जापुर : यूपी के मिर्जापुर में एक मंदिर की चौखट पर एक युवक की गला रेतकर हत्या कर दी गई। मृतक का नाम मुन्ना पासी आगे पढ़ें »

ऊपर