सूर्य उपासना : रविवार को व्रत रखने से जीवन होगा सुखमय, इन उपायों को भी करें

कोलकाता : हिंदू धर्म में सूर्यदेव की उपासना का अत्यधिक महत्व माना गया है। पंचदेवों में से सूर्य देव भी एक माने गए हैं, वहीं ज्योतिष के अनुसार सूर्य को ग्रहों का राजा माना जाता है। सूर्यदेव की पूजा के लिए रविवार का दिन सबसे श्रेष्ठ माना गया है। इस दिन लोग सूर्यदेव की पूजा करते हैं और उन्हें अर्घ्य देते हैं। शास्त्रों के अनुसार, सूर्य का व्रत करने से काया निरोगी तो होती ही है, साथ ही अशुभ फल भी शुभ फल में बदल जाते हैं। माना जाता है कि, यदि रविवार के दिन व्रत किया जाए और सूर्यदेव की आराधना की जाए तो जीवन में आने वाली समस्याओं से मुक्ति मिलती है। ज्योतिषचार्यों के अनुसार यदि किसी व्यक्ति की कुंडली में सूर्य अशुभ स्थिति में हो तो रविवार को सूर्य के लिए विशेष उपाय करना चाहिए। ऐसे कई उपाय हैं, जिन्हें करने मात्र से आप अपने जीवन में खुशहाली पा सकते हैं यानी कि आपका जीवन सुखमय होगा।
आइए जानते हैं रविवार व्रत की विधि और इस दिन किए जाने वाले उपायों के बारे में…
व्रत विधि
– सूर्य उपासना और व्रत के लिए सूर्योदय से पूर्व उठें।
– नित्यक्रमादि से निवृत्त होकर स्नान करें और सूर्य देव का जल चढ़ाएं।
– इसके बाद व्रत का संकल्प लें और व्रत की शुरुआत करें।
– लाल रंग के कपड़े पहनकर सूर्य मंत्र का जाप करें।
– अब सूर्य देव को जल, रक्त चंदन, अक्षत, लाल पुष्प और दुर्वा से अर्घ्य देकर पूजन करें।
– ध्यान रहे भोजन सूर्यास्त के बाद ही करें और इसमें गेहूं की रोटी, दलिया, दूध, दही और घी का उपयोग करें।
उपाय-
– रविवार को एक समय का भोजन करें, ध्यान रहे भोजन में नमक का उपयोग ना करें।
– इस दिन सुबह घर से निकलने से पहले घर के सभी सदस्य अपने माथे पर चन्दन तिलक लगाएं।
– रविवार के दिन मछलियों को आटे की गोली बनाकर खिलाएं।
– चींटियों को खोपरे व शक्कर का बूरा मिलाकर खिलाएं।
– रविवार के दिन गरीब, असहाय, रोगी व किन्नरों की सहायता अवश्य करें।
– सुबह घर से किसी काम के लिए निकलने से पहले गाय को रोटी दें।
– रविवार को आदित्य हृदय स्त्रोत का पाठ करें।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

चार महीने के बाद मंगलवार को खुला मंगलाहाट

कोरोना नियम के उड़ाई गई धज्जियां क्रेता और विक्रेता के चेहरों पर नहीं थे मास्क हावड़ा : चार महीनों के बाद मंगलवार से मंगला हार्ट आगे पढ़ें »

ऊपर