रविवार : जाने सूर्यदेव को प्रसन्न करने के अचूक उपाय

कोलकाता : हिन्दू धर्म के अनुसार भगवान सूर्य देव कलयुग के एकमात्र ऐसे देव हैं जो साक्षात दिखाई पड़ते हैं। सूर्य देवता सृष्टि के महत्वपूर्ण आधार हैं। सूर्य से ही पृथ्वी पर जीवन है। वैदिक काल से सूर्योपासना अनवरत चली आ रही है। भगवान सूर्य के उदय होते ही संपूर्ण जगत का अंधकार नष्ट हो जाता है और चारों ओर प्रकाश ही प्रकाश फैल जाता है।

ज्योतिष में जहा सूर्य को आत्मा का कारक माना गया है, वही इन्हें नवग्रहों का राजा भी माना गया है। इसके साथ ही सूर्य को कुंडली में हमारे मान सम्मान का कारक भी माना जाता है।

सूर्य को जहां जगत की आत्मा मन जाता है। वही मान्यता के अनुसार नित्य सूर्य की उपासना करने से हमें शुभ फल प्राप्त होते हैं। सूर्य देव के प्रातः दर्शन कर जल चढ़ाने से सफलता, शांति और शक्ति की प्राप्ति होती है। सूर्यदेव जी की प्रसन्न करने के लिए रोज प्रातः उनकी आरती करनी चाहिए।

आइये जानते हैं सूर्यदेव को प्रसन्न करने के अचूक उपाय

: प्रतिदिन भगवान सूर्य को अर्घ्य दें।

: सूर्य को जल धीमे-धीमे इस तरह चढ़ाएं कि जलधारा आसन पर आ गिरे ना कि जमीन पर।

: रविवार का व्रत रखें।

: भगवान विष्णु की उपासना करें।

: मुंह में मीठा डालकर ऊपर से पानी पीकर ही घर से निकलें।

: पिता और पिता के संबंधियों का सम्मान करें।

 

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

भारत का पहला ओमिक्रॉन मरीज भाग गया देश से बाहर!

बेंगलुरु: कर्नाटक के बेंगलुरु में कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन से संक्रमित दो केस पाए गए हैं, लेकिन इस बीच एक ऐसी खबर सामने आई आगे पढ़ें »

ऊपर