खेल मंत्रालय ने अर्जुन पुरस्कार और खेल रत्न के लिए इन खिलाड़ियों का नाम खारिज किया

Arjuna Award, Bundi Chand, Harbhajan Singh, Sports Ratna, Sports Ministry

नई दिल्ली : केंद्रीय खेल मंत्रालय की ओर से राष्ट्रीय पुरस्कारों के लिए खिलाड़ियों की सूची तैयारी की गई थी। जिसमें राज्य सरकार की ओर से अर्जुन पुरस्कार के लिए धाविका दुती चंद और खेल रत्न के लिए क्रिकेटर हरभजन सिंह का नाम मंत्रालय को भेजा गया था। लेकिन खेल मंत्रालय की ओर से दोनों खिलाड़ियों का नाम खारिज कर दिया गया। मंत्रालय ने एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इंडिया से पदकों के अनुसार खिलाड़ियों की रैंकिंग करने के लिए कहा था। इस प्रक्रिया में दुती चंद का नाम पांचवे स्‍थान पर था। साथ ही उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की ओर से खिलाड़ियों का नाम निर्धारित समयावधि समाप्त हो जाने के बाद भेजे गये थे। इसलिए उनका नामांकन खारिज कर दिया गया।
नवीन पटनायक से मिलीं दुती चंद
दुती चंद नामांकन खारिज होने के बाद मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से मिली थी। उन्होंने विश्व यूनिवर्सिटी खेल में जीते गए स्वर्ण पदक दिखाते हुए अर्जुन अवॉर्ड के लिए अपनी फाइल फिर से खेल मंत्रालय को भेजने का अनुरोध किया था। दुती ने कहा कि सीएम ने मेरे नाम का प्रस्ताव फिर से भेजने का आश्वासन दिया। उन्होंने मुझसे कहा कि तुम चिंता मत करो और अपनी आगे की प्रतियोगिताओं की तैयारी करो।
देश के लिए और पदक जीतूंगी
दुती चंद ने कहा कि 2013 से मेरे प्रदर्शन में निरंतरता रही है। मैंने जकार्ता में दो पदक अपने नाम किए थे। इसके बाद अब विश्व यूनिवर्सिटी खेल में पदक जीता। भविष्य में देश के लिए और पदक जीतूंगी। साथ ही उन्होंने बताया कि नेपोली (इटली) में विश्व प्रतियोगिता मुकाबले में 100 मीटर की दौड़ में स्वर्ण पदक अपने नाम किया था। उन्होंने यह चुनौती महज 11.32 सेकंड में पूरी की थी। उनका यह रिकार्ड राष्ट्रीय स्तर पर दर्ज किया गया था। मालूम हो कि दुती ने एशियन जूनियर एथलेटिक्स 2014 प्रतियोगिता में दो स्वर्ण पदक जीते थे। साथ ही उनके नाम एशियन प्रतियोगिता में चार कांस्य पदक हैं। उन्होंने बताया कि गत साल इसी प्रतियोगिता में उन्होंने दो रजत पदक अपने नाम किए थे।

बता दें कि हरभजन सिंह ने भारतीय क्रिकेट टीम के लिए 103 टेस्ट, 236 वनडे और 28 टी-20 खेले। उन्होंने टेस्ट में 2224 रन बनाए और 417 विकेट भी लिए। वनडे में उन्होंने 1237 रन बनाए और 269 विकेट लिए। टी-20 में उन्होंने 21 विकेट अपने नाम किए हैं। हरभजन ने आखिरी अंतरराष्ट्रीय मुकाबला 2016 में खेला था। इसके बावजूद उनके नाम का चयन पुरस्कार के लिए नहीं किया गया है। इसके पीछे क्या कारण रहे यह पूरी तरह स्पष्ट नहीं हुआ है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

विम्बलडन रद्द होने का असर नहीं, तय समय पर हीअमेरिकी ओपन : आयोजक

न्यूयार्क : कोरोना वायरस महामारी के कारण विम्बलडन रद्द हो गया और फ्रेंच ओपन स्थगित कर दिया गया लेकिन अमेरिकी ओपन के आयोजकों ने कहा आगे पढ़ें »

क्यूबा का ओलंपिक चैंपियन पहलवान बोरेरो कोरोना की चपेट में

नयी दिल्ली : रियो ओलंपिक और विश्व कुश्ती चैंपियन क्यूबा के बोरेरो मोलिना इस्माइल सहित पांच एथलीट कोरोनो वायरस कोविड-19 से संक्रमित हो गए हैं। आगे पढ़ें »

2011 विश्‍व कप : धोनी के विजयी छक्के को ज्यादा त्वज्जो देने से गंभीर नाराज, कहा- पूरी टीम की वजह से बने थे विश्व चैम्पियन

मूडीज इन्वेस्टर्स ने बैंकिंग सेक्टर के लिए अनुमान स्थिर से नेगेटिव किया

पीएम केयर्स फंड में दो साल का वेतन देंगे गौतम गंभीर

टोक्यो ओलंपिक पर समर्थन के लिये आईओसी प्रमुख बाक ने मोदी का आभार जताया

डकवर्थ-लुईस नियम बनाने वाले 78 साल के गणितज्ञ लुईस का निधन

चीन की मैन्यूफैक्चरिंग रिकवरी क्रूड के लिए अच्छा सौदा, सोने की चमक फीकी

पंत के छक्का लगाने के चैलेंज पर रोहित ने कहा- उसे खेलते हुए एक साल भी नहीं हुआ और चुनौती दे रहा

कोरोना से संबंधित सही जानकारी के लिए सरकार ने हैप्टिक से संचालित चैटबॉट लॉन्च किया

ऊपर