…तो इस वजह से शादी के बाद बढ़ने लगता है लड़कियों का वजन

कोलकाता : शादी किसी भी लड़की के लिए एक नए जीवन जैसा होता हैं जिसके बाद उसकी जिंदगी में कई बदलाव आते हैं। शादी के बाद लड़कियों की लाइफस्टाइल में तो बदलाव आते ही हैं लेकिन इसी के साथ ही उनमें शारीरिक बदलाव भी देखने को मिलते हैं, विशेष तौर पर मोटापा। जी हां, अक्सर देखने को मिलता हैं कि शादी के बाद लडकियों का वजन बढ़ने लगता हैं। बढता हुआ वजन उनके लिए परेशानी बनने लगता है। दरअसल इसकी कई वजहें हैं जिनके बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं ताकि इन्हें जान आप खुद के बढ़ते वजन को नियंत्रण में ला सकती हैं। तो आइये जानते हैं उन कारणों के बारे में जिनकी वजह से शादी के बाद लड़कियों का वजन बढ़ने लगता है…
डाइट में बदलाव

शादी के बाद महिलाएं नए परिवेश में जाती हैं और अच्छा स्वादिष्ट भोजन खिलाने के चक्कर अनहेल्दी डाइट का सेवन करने लगती हैं। यही नहीं, मायके में वो जिस स्ट्रिक्ट डाइट को फॉलो करती आई हैं उसे वे यहां ससुराल में नहीं फॉलो करती जिसका नतीजा वजन का तेजी से बढ़ना होता है।
हॉर्मोनल बदलाव
शादी के बाद लड़कियों में हॉर्मोनल बदलाव होते हैं। इसके अलावा लड़कियां सेक्सुअल लाइफ में एक्टिव हो जाती हैं। इस कारणों से भी वजन बढ़ता है। वहीं, गर्भनिरोधक गोलियों का इस्तेमाल भी वजन बढ़ाता है।
ओवर ईटिंग
शादी के बाद दोस्तों से लेकर रिश्तेदारों तक हर कोई नए कपल को अपने घर खाने पर बुलाता है, जहां पर सभी लोग मिलकर जरूरत से ज्यादा खाना खिला देते हैं। यह सिलसिला शादी के बाद कई हफ्तों पर जारी रहता है। इस वजह से शरीर में जरूरत से ज्यादा कैलोरी चली जाती है और तेजी से वजन बढ़ने लगता है।
तनाव बढ़ना
शादी को लेकर महिलाएं जितना खुश रहती हैं उन्हें तनाव भी उतना ही रहता है। नई जिम्मेदारियों को सम्हालना, हर किसी को खुश रखना आदि तनाव का बड़ा कारण है। यही नहीं, लाइफ स्टाइल में भी काफी बदलाव आता है जिसे स्वीकार करना एक चुनौती ही होती है।ऐसे में तनाव को कम करने के लिए महिलाएं अनहेल्दी भोजन करती हैं और वजन बढ़ जाता है।
जिम्मेदारियां निभाने का प्रेशर
कहा जाता है कि शादी के बाद लड़कियां ससुराल वालों को खुश करने के लिए खूब पकवान बनाती हैं। जिसमें भरपूर मात्रा में तेल, घी, मसालों आदि का इस्तेमाल होता है। इतना ही नहीं मेहनत से बनाया खाना खराब न हो, इस चक्कर में जरूरत से ज्यादा खाना खा भी लेती हैं। ऐसे में वजन बढ़ना लाजमी है।
मेटाबॉलिक रेट घटना
आमतौर पर 30 की उम्र के बाद शरीर में मेटाबॉलिक रेट घटने लगते हैं और जिसकी वजह से थोड़ा खाने पर भी वजन बढने लगता है। शादी की उम्र 30 के आसपास ही होती है और यही वो समय है जब महिलाओं के जीवन में बहुत कुछ बदलता है। ऐसे में वजन बढ़ना स्वाभाविक ही है।
अत्यधिक प्यार दुलार मिलना
नए परिवार की सदस्य को हर कोई पैंपर करना पसंद करता है। उसे हर दिन नया कुछ खिलाना, पार्टी, फंक्शन आदि में जाना, धूमधाम से त्याहार आदि मनाना, इन सबके बीच तरह तरह के भोजन खिलाना आम तौर पर हर परिवार में होता है। ऐसे मे महिलाएं भी केयरलेस हो जाती हैं और उनका वजन बढ़ने लगता है।
बदलती सोच
शादी से पहले लड़कियां खूबसूरत दिखने के लिए नियमित व्यायाम और जिम करती हैं और खानपान का भी ध्यान रखती हैं लेकिन शादी के बाद सोच बदल जाती है। कई महिलाएं ये सोचने लगती हैं कि अब तो शादी को चुकी और अब फिटनेस की क्या जरूरत।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

शादी का वादा कर प्रेमिका से किया दुष्कर्म, पहुंचा जेल, बाहर निकलने पर दोबारा किया दुष्कर्म

गोल्फग्रीन इलाके की घटना सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : शादी का वादा कर प्रेमिका से दुष्कर्म करने के आरोप में पुलिस ने एक युवक को गिरफ्तार किया। जेल आगे पढ़ें »

ऊपर