गलती से भी इन जगहों पर न करें हंसी-ठिठोली, बनते हैं पापों के भागीदार

कोलकाताः यह तो हम सभी जानते हैं कि हंसना सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होता है। लेकिन क्या आप यह जानते हैं कि किसी गलत जगह पर हंसना आपको सहस्त्र पापों का भागी बना सकता है। अगर कोई व्यक्ति इन जगहों पर हंसता है तो वो पाप का भागीदार बनता है। तो आइए जानते हैं कि वो कौन-कौन सी जगहें होती हैं जहां पर हंसना सही नहीं माना जाता है।

श्मशान में हंसना है गलत: अगर किसी व्यक्ति का दाह संस्कार हुआ है या फिर किसी की शव यात्रा निकल रही है तो हंसना गलत होता है। यह मृत व्यक्ति का अपमान माना जाता है। जो व्यक्ति शवयात्रा या श्मशान में हंसता है वो पाप का भागीदार होता है।

शोकाकुल परिवार में न हंसे: अगर आप किसी शोकाकुल परिवार में हैं तो वहां पर आपको हंसने से बचना चाहिए। यह उस परिवार की भावनाओं का अपमान करना होता है। साथ ही इधर-उधर की बातें भी नहीं करनी चाहिए। यह आपको पाप का भागीदार बनाता है।

मंदिर में न हंसे: यह एक ऐसी जगह है जहां पर आध्यात्मिक शांति का अनुभव होता है। यहां पर हंसी-ठिठोली सही बात नहीं है। अगर आप ऐसा करते हैं तो आपका जुड़ाव ईश्वर से नहीं हो पाता है। साथ ही दूसरों को पूजा करने में भी बाधा आती है।

सत्संग या कथा में न हंसे: अगर आप किसी ऐसी जगह हैं जहां पर कथा या सत्संग हो रहा है तो आपको वहां हंसना नहीं चाहिए। इससे आपका नुकसान हो सकता है। यहां पर दिए जा रहे प्रवचनों या गुरुवाणी को ध्यान से सुनना चाहिए।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

अब अनुब्रत मंडल आये आयकर के निशाने पर, अगले सप्ताह बुलाये गये

करोड़ों की बेनामी संपत्ति का आरोप कोलकाता : आयकर विभाग ने ​अगले सप्ताह तृणमूल नेता अणुव्रत मंडल को बेनामी संपत्तियों से संबंधित मामलों में नोटिस भेजी आगे पढ़ें »

vote

जंगीपुर व शमशेरगंज में मतदान तिथि बदली, अब 16 मई को मतदान

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : चुनाव आयोग ने जंगीपुर व शमशेरगंज में 13 मई को होने वाले मतदान की तिथि बदल दी है। अब यहां 16 मई आगे पढ़ें »

ऊपर