दूल्हे के पैसों से की लाखों की शॉपिंग…फिर फरार हो गई ‘बाबू’

लखनऊ : लखनऊ में एक लुटेरी दुल्हन शादी से पहले होने वाले दूल्हे को लाखों रुपये का चूना लगाकर रफू चक्कर हो गई। 16 दिसंबर को युवक की शादी होनी थी लेकिन उससे पहले ही लड़की उसे लूट कर फरार हो गई। दरअसल मनोज अग्रवाल नाम के युवक की मेट्रोमोनियल वेबसाइट के जरिए एक लड़की से जान-पहचान हुई थी जिसके बाद बात शादी तक पहुंची थी। कथित तौर पर मनोज के घरवालों और प्रियंका की मौसी ने बातचीत कर दोनों के रिश्ते को फाइनल कर दिया। इस दौरान युवती ने मनोज से यह भी कहा कि वह आईएएस की तैयारी कर रही है और जल्द ही उसका चयन भी हो जाएगा। मनोज के मुताबिक इसी बहाने युवती ने पैसा मांगना शुरू कर दिया। मनोज ने कहा कि युवती पढ़ाई के लिए कभी 10 हजार कभी 20 हजार और 50 हजार रुपये मांगती रही और वो होने वाली पत्नी समझकर देता रहा। इस तरह युवक ने घर बनवाने के लिए जमा किए गए करीब 6 लाख रुपये उस लड़की को दे दिए। पिछले 6 महीने से दोनों में व्हाट्सएप चैटिंग चल रही थी और दोनों का मिलना जुलना भी होता था। युवक इससे बेहद खुश हुआ और अपनी शादी की तैयारियों में जुट गया। फरार होने वाली युवती जब मनोज से मिलने लखनऊ पहुंची तो उसके आने-जाने की फ्लाइट का किराया भी मनोज ने ही दिया। यहां तक कि मनोज ने मॉल में उसे लगभग 2 लाख रुपये की शॉपिंग भी करवाई। इसके बाद कथित तौर पर आरोपी प्रियंका सिंह आखिरी बार हैदराबाद जाने की बात कह कर मनोज को चूना लगाकर फरार हो गई। युवती के गायब होने के बाद सिर्फ उसका ही नहीं बल्कि उसकी मौसी का फोन भी ऑफ आने लगा। मनोज ने जब प्रियंका द्वारा दिए गए आधार कार्ड, पैन कार्ड और वोटर कार्ड की जांच की तो वो भी फर्जी निकला। जब पीड़ित आरोपी प्रियंका के दिए हुए पते पर बिहार और दिल्ली में जांच करने पहुंचा तो वो भी फर्जी निकला जिसके बाद पीड़ित को ठगी का अहसास हुआ। शादी से पहले ही प्रियंका नाम की युवती मनोज को लूट कर फरार हो चुकी थी। इसके बाद पीड़ित मनोज ने हज़रतगंज थाने में युवती के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया है। अब पुलिस इस मामले की जांच कर रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

104 डिग्री मिला तापमान तो अंत में ही दे सकेंगे वोट

चुनाव आयोग की कोरोनाकाल में विशेष गाइडलाइन सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः कोरोना काल में विधानसभा चुनाव में संक्रमण से बचाव के लिए चुनाव आयोग ने विशेष पहल की आगे पढ़ें »

चुनाव में काले धन का उपयोग न हो, इसके लिए आयकर के नोडल अधिकारी सक्रिय

23 जिलों में नोडल ऑफिसर नियुक्त सन्मार्ग संवाददाता चुनाव की घोषणा के बाद आयकर विभाग रख रहा है पैंनी नजर कोलकाता : बंगाल में चुनावी बिगुल बजने के आगे पढ़ें »

ऊपर