सुप्रीम फैसले के बाद बोली शिवसेना- पहले राम मंदिर, फिर महाराष्ट्र में सरकार

raut

मुंबई : अयोध्या मामले पर शीर्ष न्यायालय ने फैसला सुना दिया है। न्यायालय के 5 जजों की संविधान पीठ ने विवादित जमीन पर रामलला के हक में फैसला सुनाया है। न्यायालय के इस फैसले ने राम मंदिर निर्माण का रास्ता साफ कर दिया है। साथ ही न्यायालय ने केंद्र सरकार को इस संबंध में 3 महीने के अंदर एक ट्रस्ट बनाने का आदेश दिया है। वहीं, शिवसेना ने न्यायालय के इस फैसले के बाद महाराष्ट्र में सरकार बनाने से पहले मंदिर निर्माण का नारा दिया है। शिवसेना नेता संजय राउत ने राम मंदिर पर फैसला आने के बाद ट्वीट कर कहा है कि ‘पहले मंदिर फिर सरकार। अयोध्या में मंदिर, महाराष्ट्र में सरकार…जय श्रीराम।

पहले राम मंदिर, फिर महाराष्ट्र में सरकार : शिवसेना

मालूम हो कि महाराष्ट्र में भाजपा और शिवसेना का गठबंधन टूटने की कगार पर दिख रहा है। दोनों दलों में मुख्यमंत्री पद के लिए खिंचातानी अब तक जारी है। इस कारण 24 अक्टूबर को चुनाव नतीजे आने के बाद से अब तक सरकार बनने में दोनो असफल रहे हैं। अब शिवसेना ने सरकार गठन की लड़ाई को नया मोड़ देते हुए स्पष्ट कहा है कि पहले राम मंदिर बनेगा, फिर महाराष्ट्र में सरकार बनेगी।

मुस्लिम पक्ष को मिला 5 एकड़ जमीन

शीर्ष न्यायालय ने अयोध्या विवाद पर फैसला देते हुए कहा है कि विवादित जमीन पर मुस्लिम पक्ष सबूत नहीं दे पाया है। न्यायालय ने कहा है कि विवादित जमीन के नीचे मंदिर के सबूत मिले हैं। साथ ही विवादित जमीन पर रामलला का हक माना है। न्यायालय ने केंद्र सरकार को 3 महीने के अंदर एक ट्रस्ट बनाने का आदेश दिया है, जो राम मंदिर निर्माण से लेकर बाकी सभी काम देखेगा। जबकि मुस्लिम पक्ष को अयोध्या में किसी दूसरी जगह मस्जिद निर्माण के लिए 5 एकड़ जमीन देने का आदेश दिया गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

गुरु नानक के नाम पर भवन बनायेगी राज्य सरकार

कोलकाता : सोमवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने घोषणा की कि सिख गुरुओं के पहले गुरु और सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक की 550वीं आगे पढ़ें »

तेज रफ्तार से आ रही स्कूल बस लैंप पोस्ट से टकरायी, 20 घायल

कोलकाता : ड्राइवर द्वारा नियंत्रण खोने से तेज रफ्तार स्कूल बस लैंप पोस्ट से जा टकरायी। घटना चितपुर थानांतर्गत पी.के मुखर्जी रोड व काशीपुर रोड आगे पढ़ें »

ऊपर