शनिवार को क्या करने से प्रसन्न होंगे शनिदेव और क्या करने से नाराज़?

कोलकाता : शनिवार  का दिन भगवान भैरव और न्याय के देवता शनिदेव  का दिन माना जाता है। इस दिन की प्रकृति भी दारुण है। शनिदेव सबसे जल्दी क्रोधित होने वाले देवता माने जाते हैं। अगर वे अपने भक्त की भक्ति से प्रसन्न हो जाएं तो उसके वारे-न्यारे कर देते हैं, लेकिन अगर किसी वजह से उन्होंने किसी व्यक्ति पर अपनी दृष्टि डाल दी तो उसका खराब समय शुरू हो जाता है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार शनिवार को नियम पूर्वक शनिदेव की पूजा करने से जीवन में लाभ मिलता है। शनिदेव सभी लोगों के अच्छे और बुरे कर्मों के हिसाब से उन्हें फल देते हैं। शनिदेव की उपासना करने वाले लोगों को इस बात का खास ख्याल रखना चाहिए कि शनिवार के दिन क्या किया जाए जिससे शनिदेव प्रसन्न हों, इसके साथ ही ऐसा कोई भी काम करने से बचना चाहिए जिससे शनिदेव की नाराजगी का सामना करना पड़े।
शनिवार के दिन करें ये कार्य
– शनिवार के दिन व्रत रखना लाभकारी होता है. अगर व्रत न रख सकें तो भोजन में इस दिन तेल का उपयोग नहीं करना चाहिए।
– इस दिन पीपल के पेड़ के नीचे शाम को जल चढ़ाना चाहिए और तिल के तेल का दीपक जलाना चाहिए।
– इस दिन भैरव महाराज की भी उपासना करें. शनिवार को भैरव मंदिर में जाकर मदिरा भी चढ़ाई जा सकती है।
– गुरुवार की तरह शनिवार को भी अपनी गलती की क्षमा मांगी जा सकती है।
– इस दिन भवन निर्माण शुरू करने, सर्जरी या जांच कार्य शुरू किए जा सकते हैं।
– शनिवार के दिन पश्चिम, दक्षिण एवं नैऋत्य दिशा में यात्रा की जा सकती है।
– शनिवार के दिन कौवे को रोटी खिलाने से शनिदेव प्रसन्न होते हैं।
इस दिन गरीबों, विकलांगों से अच्छा व्यवहार करते हुए उन्हें पर्याप्त दान करना चाहिए।
शनिवार के दिन नहीं करें ये कार्य
– शनिवार के दिन लोहा या लोहे से बनी वस्तुएं नहीं खरीदना चाहिए।
– इस दिन तेल खरीदने से भी शनिदेव नाराज हो सकते हैं।
– शनिवार के दिन शराब, नॉनवेज का सेवन नहीं करना चाहिए।
– उत्तर, पूर्व और ईशान दिशा में इस दिन यात्रा नहीं करना चाहिए।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

न्यूटाउन में चल रही नाका चेकिंग

कोलकाताः सड़क हादसों को कम करने के लिए बिधाननगर पुलिस के नव दिगंत ट्रैफिक गार्ड अब सक्रिय है। वे नालबन के सामने कोलकाता के रास्ते आगे पढ़ें »

ऊपर