शनिदेव को बेहद पसंद है यह फूल, ऐसे करेंगे अर्पित तो नहीं पड़ेगी बुरी छाया

कोलकाता : शनिवार का दिन न्याय के देवता शनिदेव को समर्पित है। शनि देवता हर किसी उनके अच्छे व बुरे कर्मों का फल देते हैं। वहीं शनिदेव की कठोर दृष्टि किसी पर पड़ने की स्थिति को शनि की ढैय्या या साढ़े साती कहते हैं। माना जाता है कि हर व्यक्ति को जिंदगी में एक बार शनि की दशा का सामना करना पड़ता है। मगर जिन लोगों पर शनिदेव की बुरी दृष्टि पड़ती है वे शनिवार के दिन कुछ खास उपाय करके उन्हें खुश कर सकते हैं। तो आइए जानते हैं उन उपायों के बारे में…

– आक का फूल चढ़ाएं
शनिदेव को आक का फूल अतिप्रिय है। इसलिए उनकी कृपा पाने के लिए शनिवार के दिन उन्हें सरसों तेल के साथ आक का फूल चढ़ाएं। इससे शनिदेव की जल्दी की कृपा बसरेगी।

-साबुत दाल और तिल का करें दान
शनिदोष से मुक्ति पाने के लिए शनिवार के दिन साबुत दाल और तिल का दान करें। इसके अलावा इसके कुछ दाने जेब में रखने से भी लाभ होता है।

– हनुमान जी व शिवजी की पूजा करें
शनिदेव को हनुमान जी बेहद प्रिय है। इसलिए शनिवार को शनिदेव के साथ हनुमान जी की भी पूजा करें। मान्यता है कि इस दिन भगवान शिव की पूजा करने से शनि की बुरी दृष्टि से बचाव रहता है। इस दिन शिव चालीसा, हनुमान चालीसा, संकट मोचन हनुमान अष्टक आदि का पाठ करें।

– लोहे का दान
धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, इस दिन लोहा खरीदने से बचना चाहिए। नहीं तो शनिदेव की नाराजगी का सामना करना पड़ सकता है। वहीं इसका दान करने से शनिदेव प्रसन्न होते हैं।

– शनिवार के दिन नमक खरीदने से बचें
धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, शनिवार के दिन नमक खरीदने से शनिदेव की नाराजगी का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में जीवन में सेहत व आर्थिक तौर पर समस्याएं हो सकती है। इसलिए बेहतर है कि इस दिन की जगह किसी अन्य दिन नमक खरीदें।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बैठक: शरद पवार से फिर मिले प्रशांत किशोर, एक घंटे बंद कमरे में हुई बातचीत

नई दिल्ली : सियासी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने बुधवार को यहां राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) सुप्रीमो शरद पवार से मुलाकात की। इससे एक दिन पहले आगे पढ़ें »

अवैध संबंध की दर्दनाक सजा, नाले में घुसकर हत्याकांड को अंजाम

नागपुर: इश्क और मुश्क छिपाए नहीं छिपती और इसका नतीजा भी घातक ही होता है। महाराष्ट्र के नागपुर से एक ऐसी खबर सामने आई जो आगे पढ़ें »

ऊपर