इन तीन देवताओं के भक्तों पर हमेशा कृपा रखते हैं शनि देव

कोलकाता : शनि देव का नाम सुनते ही मन में भय छा जाता है। ढैया और साढ़ेसाती में इंसान को कष्ट झेलने पड़ते हैं। जिनकी कुंडली में शनि की स्थिति शुभ ना हो, उनको तो और परेशानी झेलनी होती है। ग्रहों के संसार में शनिदेव को न्यायाधीश का दर्जा हासिल है। इंसान के कर्म के अनुसार ही शनि देव फल देते हैं। लेकिन जिस व्यक्ति पर शनि देव की कृपा होती है, उसे वह रंक से राजा भी बना देते हैं। यूं तो शनिदेव की पूजा के कई उपाय बताए गए हैं। लेकिन तीन ऐसे देवता हैं, जिनके भक्तों को शनिदेव कभी परेशान नहीं करते। भले ही ढैया और साढ़ेसाती चल रही हो, तब भी उनको कष्ट नहीं पहुंचाते। अब आपको बताते हैं कि किन देवताओं के भक्तों पर शनि देव रखते हैं कृपा।
अगर आप भगवान श्रीकृष्ण के भक्त हैं तो शनिदेव आपको शुभ फल देंगे। वो इसलिए क्योंकि शनिदेव भी भगवान श्रीकृष्ण की पूजा करते हैं और उन्होंने मथुरा के कोसीकलां के कोलिकावन में भगवान श्रीकृष्ण की तपस्या की थी। इसके बाद कोयल के रूप में भगवान ने उनको दर्शन दिए थे। इसलिए माना जाता है कि जो लोग श्रीकृष्ण की पूजा करते हैं उनको शनिदेव अच्छे फल देते हैं।
भगवान शिव के भक्तों पर भी शनिदेव कृपा बनाए रखते हैं। धार्मिक ग्रंथों के मुताबिक, एक बार शनिदेव के पिता सूर्य ने उनका और उनकी माता छाया का अपमान कर दिया था। इसके बाद शनि देव ने भगवान शिव की तपस्या कर उनको प्रसन्न कर लिया। भगवान शिव ने उन्हें ग्रहों का न्यायाधीश बना दिया। इसलिए भगवान शिव की पूजा करने वालों को शनि देव कभी दुख नहीं देते।
शनिवार और मंगलवार को शनि देव के अलावा हनुमान जी की पूजा की जाती है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि एक बार शनि देव को अपनी ताकत का घमंड हो गया था। जिसे हनुमान जी ने पल में ही धूल में मिला दिया था। हनुमान जी को शनि देव ने वचन दिया था कि वे उनके भक्तों को कभी कष्ट नहीं पहुंचाएंगे।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

विदेश जाना हुआ और महंगा, पर्यटन जगत के लोगों पर आयी मुसीबत

प्रस्तावित 20 फीसदी टीसीएस की दर को वापस लेने के लिए करेंगे अपील सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : केंद्रीयवित्त मंत्री की कई नयी घोषणाओं पर जहां लोगों ने आगे पढ़ें »

शुभेंदु ने पूछा, सरकार गिरने के बयान देने का क्या है आधार ?

एकलव्य स्कूल के लिए राज्य ने नहीं दी जमीन : शुभेंदु सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर करारा हमला बोलते आगे पढ़ें »

ऊपर