सिंधिया ने कहा-भारतीय संस्कृति और संविधान के खिलाफ है नागरिकता संशोधन विधेयक

sindhiya

इंदौर (मध्यप्रदेश) : कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बुधवार को नागरिकता संशोधन विधेयक को लेकर केंद्र सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि यह प्रस्तावित कानून देश की संस्कृति की वसुधैव कुटुम्बकम् की हजारों साल पुरानी अवधारणा और डॉ. भीमराव अम्बेडकर द्वारा रचित संविधान के विरूद्ध है। सिंधिया ने संवाददाताओं से कहा कि ‘हमारे संविधान के निर्माता बाबा साहब अंबेडकर ने कहा था कि भारत में बसे हर व्यक्ति को किसी जाति या धर्म विशेष के दृष्टिकोण से नहीं, बल्कि देश के एक नागरिक के रूप में देखा जायेगा। ऐसे में यह विधेयक संविधान की मूल भावना के विपरीत है, क्योंकि देश के नागरिकों को उनके धर्म के आधार पर पहले कभी नहीं देखा गया था।’

सबको अपनाने वाली माटी के खिलाफ है कैब

सिंधिया ने कहा कि नागरिकता संशोधन विधेयक (कैब) भारतीय संस्कृति की ‘वसुधैव कुटुम्बकम्’ (पूरी पृथ्वी ही एक परिवार है) की उस हजारों साल पुरानी अवधारणा के भी खिलाफ है जिसके तहत देश की माटी ने हमेशा सबको अपनाया है। सिंधिया का कहना है कि इस विधेयक के खिलाफ कांग्रेस ही नहीं, बल्कि बहुत सारी पार्टियां भी इसके खिलाफ हैं। सिंधिया ने कहा कि पूर्वोत्तर के राज्यों और कुछ अन्य सूबों में तो लोग सड़क पर उतरकर इस विधेयक का विरोध कर रहे हैं।

सूबे की सहायता करने में ध्यान नहीं दे रही सरकार

सिंधिया से मध्यप्रदेश में यूरिया की किल्लत से किसानों की परेशानी के बारे में पूछे जाने पर कांग्रेस नेता ने कहा, ‘यह मुद्दा हमने केंद्र सरकार के सामने भी उठाया, लेकिन अफसोस कि बात है कि केंद्र सरकार सूबे की सहायता करने में ध्यान नहीं दे रही है।’ पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा, ”जब कांग्रेस केंद्र की सत्ता में थी, तब हमारी सरकार सभी राज्यों को पर्याप्त मात्रा में यूरिया देती थी।”

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल में अब तक 1 लाख के पार कोरोना संक्रमण के मामले, 73 हजार ठीक, 2 हजार की मौत

कोलकाता : वेस्ट बंगाल कोविड-19 हेल्थ बुलेटिन के अनुसार पिछले 24 घंटे में पश्चिम बंगाल में कोरोना वायरस संक्रमण के 2931 नये मामलों की पुष्टि आगे पढ़ें »

मणिपुर में कांग्रेस के छह विधायकों ने विधानसभा की सदस्यता और पार्टी से दिया इस्तीफा

इम्फाल : मणिपुर में कांग्रेस के छह विधायकों ने विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया और मंगलवार को पार्टी भी छोड़ दी। इन छह आगे पढ़ें »

ऊपर