शनि देव बरसाएंगे जमकर पैसा, शनिवार को करें काली उड़द के ये टोटके

कोलकाता : शनि देव व्यक्ति के अच्छे-बुरे कर्मों का हिसाब रखते हैं और उसी के मुताबिक व्यक्ति को फल देते हैं। आज यानी शनिवार को समर्पित है। आज के दिन शनि देव की पूजा करने और कुछ ज्योतिषीय उपाय करने से व्यक्ति को शनि दोष से मुक्ति मिलती है। साथ ही, शनि देव की कुदृष्टि का प्रभाव भी कम होता है। शास्त्रों के अनुसार शनि देव को कर्मफलदाता के नाम से जाना जाता है। आज हम आपको बताएंगे काली उड़द के कुछ उपायों के बारे में, जिन्हें शनिवार के दिन कर लिया जाए,तो व्यक्ति के जीवन में आ रही सभी समस्याएं दूर हो जाती है. शनि देव की कृपा से उसे विशेष धन लाभ होता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनिवार के दिन काली उड़द के 4 दाने लेकर अपने ऊपर से उल्टा वार लें और उसे कौवे को खिला दें। ऐसा आपको लगातार 7 शनिवार तक करना है, कुछ ही दिन में आपको लाभ दिखने लगेगा। इसके साथ ही काली उड़द का दान भी लाभकारी होता है।

शनिवार को करें काली उड़द के उपाय

नए व्यापार में सफलता पाने के लिए
व्यापार को बढ़ाने, उसमें सफलता पाने और कोई नया व्यापार शुरू करने के लिए ज्योतिष में कई उपाय बताए हैं। इसके लिए पुराने व्यापार स्थल से लोहे की कोई वस्तु ले आएं और उसे नए व्यापार वाले स्थान पर रखने से लाभ होगा। उस जगह पर पहले स्वास्तिक बना लें और कुछ काले उड़द रखें। ऐसा करने से व्यापार में तरक्की मिलेगी।


धन वृद्धि के लिए

धन में वृद्धि और फिजूलखर्ची से बचने के लिए शनिवार की शाम को पिसी उड़द की दाल के दो वड़े बना लें। इन वड़ों पर सिंदूर और दही लगाकर पीपल के पेड़ के पास रख आएं। इस उपाय को करने के बाद गलती से भी पीछे मुड़कर न देखें। बता दें कि ये उपाय लगातार 11 शनिवार तक करें।

सौभाग्य प्राप्ति के लिए
अगर काफी समय से दुर्भाग्य पीछा नहीं छोड़ रहा तो इसके लिए काली उड़द के 2 दाने लेकर उन पर दही और सिंदूर लगाएं। इन दानों को पीपल के पेड़ की जड़ के पास रख दें। इस उपाय की शुरुआत शनिवार के दिन से करें और इसे लगातार 21 दिन तक करने से लाभ होगा।

शनि दोष से मुक्ति के लिए
अगर कोई जातक शनि दोष से पीड़ित है, तो ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनिवार के दिन काली उड़द के 4 दाने लेकर अपने ऊपर से उल्टा वार लें और उसे कौवे को खिला दें। ऐसा आपको लगातार 7 शनिवार तक करना है, कुछ ही दिन में आपको लाभ दिखने लगेगा। इसके साथ ही काली उड़द का दान भी लाभकारी होता है।
Visited 281 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

सिर्फ गर्दन का व्यायाम हमें इतने रोगों से रख सकता है दूर

कोलकाता : रीढ़ की हड्डी को कशेरूक दंड या मेरूदंड कहा जाता है। इससे समस्त कंकाल को सहारा मिलता है। रीढ़ की हड्डी या मेरूदंड आगे पढ़ें »

गुरुवार के दिन विष्णु भगवान की करें पूजा, इन 3 बातों को रखें ध्यान

नई दिल्ली: गुरुवार के दिन का हिंदूओं में विशेष महत्व है। गुरुवार के दिन भगवान विष्णु और देवताओं के गुरु बृहस्पति देव की पूजा होती आगे पढ़ें »

ऊपर