ब्रेकफास्‍ट में ओट्स खाकर इस शख्‍स ने घटाया 16 किलो वजन

कोलकाताः बढ़ता वजन आज कल की जीवनशैली में बहुत से लोगों के लिए समस्या बनता जा रहा है। लेकिन वरुण मारवाह जैसे लोग इस समस्या से जूझ रहे लोगों के लिए एक प्रेरणा हैं। मोटापे से जूझ रहे लोग अक्सर भद्दी टिप्पणियों के शिकार हो जाते हैं। यह ना केवल उनके आत्मविश्वास को चोट पहुंचाता है, बल्कि वह खुद से नफरत तक करने लगते हैं।
ऐसे में इस समस्या से परेशान लोगों के पास केवल दो ही विकल्प रह जाते हैं। पहला यह कि वह सब कुछ बर्दाश्त करें और इन बातों पर ध्यान ना दें। दूसरा, मेहनत करें और बदलाव से मुंहतोड़ जवाब दें। इनमें से वरुण ने दूसरा विकल्प चुना और महज 9 ही महीनों में कड़ी मेहनत और सही डाइट से 16 किलोग्राम वजन कम कर लिया।
नाम: वरुण मारवाह
पेशा: बैंकर
उम्र: 27 साल
लंबाई: 5 फीट 9 इंच
शहर: नई दिल्ली
इतना था वजन : 94 किलो
वजन कम: 16 किलो
वजन कम करने में समय : 9 महीने
डाइट सुधारना था पहला काम
लंच – दोपहर में वह 3 चपाती, दाल और कुछ चावल लेते हैं। इसके अलावा वह अगर दिन में सब्जी का सेवन करते हैं तो उसके साथ दही या रायता और बहुत सारा सलाद भी शामिल करते हैं, जैसे ककड़ी, गाजर, नींबू के रस में चुकंदर आदि।
कभी कभी वह अचार और पापड़ का सेवन भी करते हैं।
डिनर – वरुण कहते हैं कि डिनर दोपहर के खाने की तरह ही साधारण होता है। वह कुछ भी स्पेशल इस दौरान नहीं खाते।
प्री वर्क आउट मील – सुबह 5:30 बजे और गर्मियों में 4:30 बजे वर्क आउट करते हैं। एवं एक्सरसाइज से पहले कुछ नहीं खाते, केवल पानी ही पीते हैं।
पोस्ट वर्क आउट – नींबू पानी और एक सेब काले नमक के साथ।
चीट डे डाइट – वरुण कहते हैं कि वह खुद शेफ रह चुके हैं इसलिए वह बाहर का खाना कम ही पसंद करते हैं। इसलिए वह घर में तैयार पिज्जा, दाल मखनी, गार्लिक ब्रेड, छोले कुलचे और वेज बर्गर खाते हैं।लो कैलोरीज फूड – हरा सलाद और घर में तैयार किए गए मसाला ओट्स।
वजन घटाने के लिए किया इतना वर्क आउट

वजन घटाने के लिए जितनी जरूरी है सही डाइट, उतना ही जरूरी है एक्सरसाइज करना। वरुण ने भी वजन घटाने के लिए बहुत मेहनत की।
कुछ ऐसा था उनका एक्सरसाइज रूटीन
वरुण बताते हैं कि वह रोजाना 7-10 किलोमीटर रनिंग करते हैं। 1.5 घंटे बैडमिंटन खेलते हैं और कम से कम आधा घंटा जिम में एक्सरसाइज करते हैं। वरुण केवल बाहर ही नहीं बल्कि घर में भी कैलोरीज जलाने के लिए सफाई, झाड़ू, पोचा डस्टिंग तक करते हैं। इसके अलावा भोजन के बाद वह कुछ देर घूमने के लिए भी बाहर जाते हैं।
वजन कम करने का राज- वरुण कहते हैं कि अगर व्यक्ति ठान ले तो कुछ भी असंभव नहीं है। इसके अलावा अच्छा खाना और डिस्पलीन ही फिट रहने का राज है।

​ऐसा था मुश्किल समय
वरुण बताते हैं कि उनके लिए सबसे मुश्किल समय तब था, जब वह वजन बढ़ने के कारण लोगों के ताने और सलाह को सुन रहे थे। इसके अलावा उनके कपड़े भी उनके लिए समस्या बन गए थे, क्योंकि वजन बढ़ने के कारण वह किसी में भी फिट नहीं हो पा रहे थे।​
प्रेरणा हैं विराट कोहली
वरुण कहते हैं कि जब मैं थका हुआ या कम ऊर्जा महसूस करता हूं, मैं विराट कोहली को देख लेता हूं। उनका फिटनेस के प्रति जो डेडिकेशन है वह बहुत ही प्रेरणादायक है।वरुण समय समय पर ब्रेक लेते रहते हैं और समय समय पर ही एक्सरसाइज भी करते हैं। वह कहते हैं कि नवंबर 2020 से उन्होंने अपनी एक्सरसाइज को थोड़ा लाइट कर दिया है, और ऐसा इसलिए क्योंकि वह अब अपने कोर को मजबूत करना चाहते हैं। वह कहते हैं कि फरवरी के महीने में कोर की बेसिक एक्सरसाइज शुरू कर देंगे।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

वामो गठबंधन ने ब्रिगेड में दिखायी ताकत

विमान बोस ने कहा, ऐसी रैली पहले कभी नहीं देखी संयुक्त मोर्चा गठबंधन के लिए भरी हुंकार सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः वाममोर्चा-कांग्रेस-इंडियन सेक्युलर फ्रंट (आइएसएफ) ने रविवार को ब्रिगेड आगे पढ़ें »

विजय हजारे ट्रॉफी : गुजरात, कर्नाटक,आंध्र, क्वार्टरफाइनल में

सूरत : गुजरात, कर्नाटक और आंध्र ने आपने-अपने ग्रुप में शीर्ष पर रहकर विजय हजारे ट्रॉफी एकदिवसीय क्रिकेट टूर्नामेंट के नॉकआउट क्वार्टरफाइनल दौर में जगह आगे पढ़ें »

ऊपर