लखनऊ: पहले दुधमुंही सहित दो बच्चियों के साथ किया दुष्कर्म, फिर…

लखनऊः लखनऊ के सआदतगंज इलाके में छह महीने की दुधमुंही और 10 साल की मासूम बच्चियों के साथ दुष्कर्म की वारदात हुई। वारदात के बाद दुधमुंही बच्ची की हालत काफी खराब है। उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं, सूचना मिलने पर सक्रिय हुई पुलिस ने दोनों ही वारदात के आरोपियों को दबोच लिया है। प्रभारी निरीक्षक सआदतगंज बृजेश कुमार यादव के मुताबिक मूलरूप से पटना का रहने वाला परिवार सआदतगंज इलाके के अंबरगंज में किराए पर रहता है। वह चूड़ी का कारोबार करता है। रविवार रात को परिवार की 6 महीने की बच्ची की मां खाना बना रही थी। इसी बीच बच्ची के रोने की आवाज आई। परिजनों का आरोप है कि बच्ची का रोना सुनकर पड़ोस में रहने वाला सनी कुमार पहुंचा। बच्ची को चुप कराने के बहाने से गोद में लिया। उसके साथ खेलने लगा। बच्ची को खिलाते हुए अपने घर लेकर चला गया। जहां उसके साथ दुष्कर्म किया।
बच्ची की रोने की आवाज सुनकर घर वाले भी पहुंचे तो मासूम को छोड़कर सनी भाग गया। इस पर लोगों ने सनी को दौड़ाकर पकड़ लिया। उसकी जमकर पिटाई की। इसके बाद पुलिस को सौंप दिया। बच्ची की हालत गंभीर देख पुलिस ने उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है।
‘दुष्कर्म और पाक्सो का मुकदमा दर्ज किया गया है’
वहीं, 12 नवंबर की सुबह बीबीगंज में 10 साल की बच्ची घर के बाहर खेल रही थी। इस बीच पड़ोस में रहने वाला शमशाद बच्ची को टॉफी दिलाने के बहाने अपने साथ ले गया। बच्ची को अपने घर ले जाकर छेड़छाड़ करने लगा। बच्ची के विरोध पर उसे पीटा। दुष्कर्म किया और बच्ची को धमकाते हुए भाग निकला। बदहवास मासूम अपने घर पहुंची और परिजनों को वारदात के बारे में जानकारी दी। बच्ची के घर वालों ने थाने पहुंचकर आरोपित के खिलाफ तहरीर दी। घटना से बच्ची के घर वालों में आक्रोश है। प्रभारी निरीक्षक सआदतगंज ब्रजेश कुमार यादव के मुताबिक सनी और शमशाद दोनों को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों के खिलाफ  दुष्कर्म और पाक्सो का मुकदमा दर्ज किया गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

कपूर और लौंग जलाने से दूर होती है घर की….

कोलकाताः लौंग एक ऐसी चीज है जिसका उपयोग अनेक कामों में किया जाता है जैसे किचन में मसाले के रूप में, आयुर्वेद में औषधि के आगे पढ़ें »

ऊपर