रजनीकांत के बयान के बाद तमिलनाडु में पेरियार की प्रतिमा के साथ की गई तोड़फोड़

periyar

चेन्नई : तमिलनाडु के कांचीपुरम जिले में शुक्रवार की सुबह तर्कवादी नेता ई वी रामास्वामी पेरियार की प्रतिमा टूटी-फूटी हालत में पायी गई। पुलिस सूत्रों के अनुसार, जिले के सलावाक्कम में शुक्रवार सुबह पेरियार की क्षतिग्रस्त प्रतिमा मिलने से पूरे इलाके में बवाल मच गया है। वहीं, राजनीतिक दल के नेताओं ने इस घटना की निंदा करते हुए दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है। बता दें कि ‌बीते दिनों फिल्म अभिनेता रजनीकांत ने पेरियार को लेकर विवादित बयान दिया था और इस पर माफी मांगने से साफ इनकार कर दिया था।

स्टालिन ने की कड़ी कार्रवाई की मांग

द्रविड़ मुन्नेत्र कड़गम (द्रमुक) के अध्यक्ष एम के स्टालिन और पीएमके संस्थापक एस रामदास ने पेरियार की प्रतिमा से तोड़फोड़ की घटना पर रोष जताया है और उन सभी लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है जिन्होंने इस घटना को अंजाम दिया है।

 पेरियार ने राम-सीता की तस्वीरों के साथ निकाली  रैली : रजनीकांत

दरअसल,14 जनवरी को तमिल पत्रिका ‘तुगलक’ द्वारा आयोजित कार्यक्रम में शामिल मशहूर अभिनेता रजनीकांत ने यह दावा किया था कि वर्ष 1971 में पेरियार ने सेलम में एक रैली निकाली थी जिस दौरान भगवान राम और सीता की वस्‍त्रहीन तस्वीरों का इस्तेमाल किया गया था। इन तस्वीरों पर चप्पलें भी टांगी गई थी। रजनीकांत के इस बयान पर पेरियार समर्थक संगठनों और राजनीतिक दलों ने नाराजगी जताई थी। हालांकि, रजनी ने माफी मांगने से साफ मना कर दिया था। बता दें कि पेरियार को द्रविड़ आंदोलन का जनक कहा जाता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल में कोरोना वायरस से 62 की मौत, 3,188 नए मामले

कोलकाताः राज्य में कोरोना वायरस के संक्रमण का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। पिछले 24 घण्टे में कोरोना वायरस के संक्रमण से आगे पढ़ें »

नुसरत जहान को मिली मौत की धमकी, ब्रिटेन में भारतीय उच्चायुक्त से मांगी सुरक्षा

कोलकाता: अभिनेता-सांसद नुसरत जहान ने मंगलवार को ब्रिटेन में भारतीय उच्चायुक्त से इंस्टाग्राम पोस्ट पर मिली मौत की धमकी के लिए अतिरिक्त सुरक्षा की मांग आगे पढ़ें »

ऊपर