राजस्थान सरकार का बजट गुरुवार को

बजट को लेकर अशोक गहलोत ने की अधिकारियों के संग बैठक
जयपुर : राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत वित्त वर्ष 2020-21 के लिए राज्य का बजट गुरुवार को विधानसभा में पेश करेंगे। गहलोत के पास वित्त विभाग भी है। वह गुरुवार सुबह 11 बजे बजट पेश करेंगे।
अधिकारियों के अनुसार, अशोक गहलोत ने बुधवार को अतिरिक्त मुख्य सचिव (वित्त) निरंजन आर्य, सचिव (वित्त) (बजट) हेमंत गेरा, सचिव वित्त (राजस्व) डॉ. पृथ्वीराज, विशिष्ट सचिव वित्त (व्यय) सुधीर शर्मा तथा निदेशक बजट शरद मेहरा और अन्य अधिकारियों की उपस्थिति में बजट दस्तावेज को अंतिम रूप दिया। दिसंबर 2018 में सत्ता में आई कांग्रेस सरकार के लिए यह दूसरा बजट होगा। वहीं राजस्थान के जनजाति क्षेत्रीय विकास राज्य मंत्री अर्जुन सिंह बामनिया ने राज्य सरकार को जन जातियों के कल्याण तथा विकास के लिए प्रतिबद्ध बताते हुए बुधवार को विधानसभा में कहा कि सरकार द्वारा जन जातियों के उत्थान के लिए चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं के लिए बजट संबंधित विभागों को आवंटित किया जा चुका है। बामनिया ने प्रश्नकाल में विधायकों के पूरक प्रश्नों का जवाब में यह बात कही। इससे पहले विधायक बाबू लाल के मूल प्रश्न के जवाब में बामनिया ने बताया कि वर्ष 2017-18 में जन जाति उपयोजना के तहत आवंटित राशि 12,896 करोड़ 43 लाख रुपये थी। जिसमें से 11,345 करोड़ 56 लाख रुपये व्यय किये गये। इसी तरह वर्ष 2018-19 में आवंटित राशि 14,589 करोड़ 20 लाख रुपये में से 13,576 करोड़ 47 लाख रुपये व्यय किये गये। बामनिया ने बताया कि वर्ष 2019-20 में आवंटित राशि 15,946 करोड़ 89 लाख रुपये में से जनवरी 2020 तक 8,855 करोड़ 46 लाख रुपये व्यय किये जा चुके हैं। उन्होंने गत तीन वर्षों में किये गये आवंटन एवं व्यय का विभागवार एवं योजनावार ब्यौरा सदन के पटल पर रखा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

विंबलडन रद्द होने पर सिमोना बोलीं- अच्छा है दो साल डिफेंडिंग चैम्पियन रहूंगी

नयी दिल्‍ली : दुनियाभर में महामारी की तरह फैले कोरोनावायरस के कारण इस साल होने वाला टेनिस ग्रैंडस्लैम विंबलडन रद्द हो गया है। अब यह आगे पढ़ें »

कोरोना वायरस बदल देगा खिलाड़ियों की कई आदतें

पेरिस : क्रिकेट इतिहास में शुरू से ही तेज गेंदबाज गेंद को चमकाने के लिये उस पर लार लगाते रहे हैं। इससे गेंदबाजों को स्विंग आगे पढ़ें »

ऊपर