दूध से करें स्वास्‍थ्य व सौंदर्य रक्षा

– यदि रात में नींद कम अथवा बिलकुल नहीं आती तो भैंस का ताजा दूध रात में सोने के पूर्व पीयें। दूध जितना गाढ़ा होगा, नींद उतनी गहरी आयेगी।
– यदि थकान के कारण नींद न आती हो तो सौ ग्राम बकरी का दूध उबाल कर उसमें थोड़ा नमक मिलाकर पैरों के तलुए से पिण्डलियों तक और हाथों से कुहनियों तक मालिश करें। कुछ देर बाद पैरों को हल्के गरम पानी से धो लें। आप की थकान गायब हो जायेगी और नींद भी गहरी आयेगी।
– आंखों में जलन होने पर रात के समय सोने से पूर्व दूध की मलाई पलकों पर लगायें। सुबह तक जलन समाप्त हो जायेगी।
– कभी-कभी महिलाओं के होंठों के ऊपर मूंछ दिखाई देती है। ऐसी महिलाओं को चाहिए कि चने और मसूर की दाल को रात भर के लिए कच्चे दूध में भिगो कर रख दें। सुबह तक जब दाल अच्छी तरह भीग जाये तो उसे महीन पीसकर नाक के नीचे स्थित मूंछ पर लगायें। कुछ ही दिनों में मूंछ गायब हो जायेगी।
– कील मुहांसे युवावस्था में प्रवेश के प्रतीक चिह्न माने जाते हैं लेकिन यह भी सच है कि ये चेहरे पर बदनुमा धब्बे भी छोड़ जाते हैं। इनसे बचने के लिए घर की माताओं को चाहिए कि वे अपने बच्चों को सोलह से बीस वर्ष की उम्र तक नियमित रूप से दूध अवश्य पिलायें। दूध पीते रहने से शरीर की गर्मी निकलती रहती है, जिससे कील मुहांसे निकलने की संभावनाएं कम हो जाती हैं।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

तृणमूल के और भी विधायक छोड़ेंगे पार्टी, क्या ममता उनकी सीटों से भी चुनाव लड़ेंगी : शुभेन्दु

नंदीग्राम : भाजपा में हाल ही में शामिल हुए शुभेंदु अधिकारी ने मंगलवार को दावा किया कि आने वाले दिनों में और भी विधायक तृणमूल आगे पढ़ें »

बीएसएफ के 2 अधिकारियों को पुलिस मेडल

कोलकाता : गणतंत्र दिवस के अवसर पर दक्षिण बंगाल फ्रंटियर, सीमा सुरक्षा के 2 अधिकारियों को राष्ट्र की सेवाओं मे अपने उत्कृष्ठ योगदान हेतु सम्मानित आगे पढ़ें »

ऊपर