श्रीनगर में बंद पड़े केंद्रीय भेंड़ अनुसंधान केेंद्र को खोलने की तैयारी

बरेली: भारतीय पशु चिकित्सा अनुसंधान संस्‍थान (आईवीआरआई) कश्मीर में अरसे से बंद पड़े अपने अनुसंधान केंद्र को फिर से खोलने की तैयारी में लग गया है। आईवीआरआई के निदेशक आर के सिंह ने बताया कि 90 के दशक में आतंकी गतिविधियों को देखते हुए श्रीनगर स्थित केंद्रीय भेड़ अनुसंधान संस्थान (सीएसआरआई) को केंद्र सरकार ने बंद कर दिया था। वहां के वैज्ञानिक आईवीआरआई बरेली समेत देश के कई स्थानों पर तैनात कर दिए गए थे।

भेड़ों पर अनुसंधान कर वैक्सिन बनता था

सिंह ने बताया कि जम्मू कश्मीर का (सीएसआरआई) भेड़ पर अनुसंधान कर वैक्सीन बनाता था। भारी ठंड के कारण भेड़ के फेफड़ों में होने वाली बीमारी से निपटने के लिए वैज्ञानिक ‘फ्लो वर्म’ वैक्सीन तैयार कर उपचार करते थे। इस वैक्सीन की आपूर्ति नेपाल, भूटान और हिमाचल प्रदेश को होती थी।

370 समाप्त होते ही हालात बदल रहे

सिंह के अनुसार जम्मू कश्मीर में धारा-370 समाप्त होते ही हालात बदलने शुरू हो गए हैं इसलिए आईवीआरआई अब अपने बंद पड़े अनुसंधान संस्थान और अन्य केंद्र खोलने की कवायद में जुट गया है। फिलहाल अनौपचारिक तैयारी शुरू कर दी गयी है। वहीं प्रधान वैज्ञानिक ओ के रैना कहते हैं कि केंद्रीय भेड़ अनुसंधान संस्थान श्रीनगर में दोबारा खोले जाने के कृषि मंत्रालय के आदेश का हम सभी बेसब्री से प्रतीक्षा कर रहे हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

shah

भाजपा सरकार ने झारखंड बनाया, मोदी सरकार ने विकास कर नक्सलवाद मिटाया : शाह

पाकुड़ : केंद्रीय गृहमंत्री एवं भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने सोमवार को विपक्ष पर शब्दों के बाण चलाते हुए कहा कि कांग्रेस और आगे पढ़ें »

abdulla

इलाहाबाद कोर्ट ने आजम खान के बेटे अब्दुला का निर्वाचन किया रद्द

इलाहाबाद : इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने समाजवादी पार्टी (एसपी) के वरिष्ठ नेता आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम का निर्वाचन रद्द कर दिया है। स्वार आगे पढ़ें »

ऊपर