अगर आप भी पीरियड्स के दौरान लेती हैं पेनकिलर तो हो जाएं सावधान, कई समस्याओं का करना पड़ सकता है सामना

कोलकाताः ज्यादातर लड़कियों और महिलाओं को पीरियड्स के दौरान तेज पेट दर्द होता है। पीरियड्स में पेट दर्द होना आम समस्या है। कुछ लड़कियों को पेट दर्द कम होता है, तो कुछ औरतों को बहुत ज्यादा पेट दर्द की समस्या झेलनी पड़ती है। ऐसे में अगर आप पीरियड्स में पेट दर्द को कम करने के लिए या इससे छुटकारा पाने के लिए पेनकिलर का सहारा लेती हैं, तो यह आपके लिए घातक हो सकता है।
जी हां, पीरियड्स के दौरान पेनकिलर या दर्द निवारक दवाइयां लेने से आपको पेट से जुड़ी कई समस्याओं को सामना करना पड़ सकता है। आपको बता दें जो महिलाएं या लड़कियां हर महीने पीरियड्स के दौरान होने वाले पेट दर्द से छुटकारा पाने के लिए पेनकिलर का यूज करती हैं, उन्हें कई समस्याएं हो सकती हैं।
हो सकती हैं ये दिक्कतें

– खाने से पाचन-संबंधी समस्या
– एसिड रिफ्लक्स
– पेट का अलसर (पेट का अल्सर ऐसी समस्या है, जिसके बारे में कई महिनों और सालों तक पता नहीं चल पाता है।)
क्या कहते हैं
एक्सपर्ट्स डॉक्टरों का कहना है कि महिलाओं को कोशिश करनी चाहिए कि वह पीरियड्स में दर्द से छुटकारा पाने के लिए घरेलू तरीकों को अपनाएं। पेट दर्द से बचने के लिए पेनकिलर की बजाए प्राक्रतिक तरीकों को अपनाना चाहिए।

हो सकता है घातक असर
डॉक्टरों की मानें तो अगर कोई महिला पेट दर्द के लिए हर महीने दो दिन लगातार पेनकिलर ले रही है, तो यह बहुत घातक हो सकता है। इस स्थिति में कई सारी हेल्थ समस्याएं होने के चांसेस बढ़ जाते हैं। इसके अलावा वह महिलाएं जो पहले से ब्रूफेन और एस्प्रिन नामक दवाइयां ले रही हों, तो उनके लिए पेन किलर खाना और भी घातक हो सकता है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

फूलबागान में महिला को लगाया नकली वैक्सीन

कोलकाता : कोरोना काल में लोगों की मजबूरी का फायदा जालसाज जमकर उठा रहे हैं। महानगर में नकली रेमडेसिविर ‌इंजेक्शन की कालाबाजारी के बाद अब आगे पढ़ें »

शनि मंदिर के सामने हनुमानजी का हुआ आगमन, लगी लोगों की भीड़

पुराना मालदह : पुराने मालदह नगरपालिका के मंगलबाड़ी चौरंगी मोड़ पर स्थित शनि मंदिर के सामने अचानक हनुमानजी का उदय हुआ और इसके साथ ही आगे पढ़ें »

ऊपर