जम्मू-कश्मीर में अनुच्‍छेद 370 खत्म होने के बाद पहली बार होंगे पंचायत उपचुनाव

j&k

जम्मू : जम्मू-कश्मीर में अनुच्‍छेद 370 खत्म होने के बाद पहली बार पंचायत उपचुनाव की घोषणा की गई है। यहां 13000 पंचायत सीटों पर उपचुनाव 5 मार्च से 20 मार्च तक 8 चरणों में संपन्न होंगे। केन्द्र शासित प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी शैलेन्द्र कुमार ने गुरुवार को यह जानकारी दी। कुमार ने कहा कि चुनाव 5-20 मार्च के बीच होंगे। मतदान के लिए मतपत्रों का इस्तेमाल किया जाएगा। चुनाव कार्यक्रम की घोषणा के साथ ही आदर्श आचार संहिता तत्काल प्रभाव से लागू हो गई है।

कई पदों के रिक्त होने पर होेंगे उपचुनाव

कुमार ने कहा कि उपचुनाव मतदान का पहला चरण 5 मार्च, दूसरा 7 मार्च, तीसरा 9 मार्च, चौथा 12 मार्च, पांचवा 14 मार्च, छठा 16 मार्च, सातवां 18 मार्च और आठवां 20 मार्च को होगा। पंचायत चुनाव नवंबर-दिसंबर, 2018 में संपन्न हुए थे। इस दौरान 22,214 पंच और 3459 सरपंच निर्वाचित हुए थे। चुनाव 33592 पंच और 4290 सरपंच निर्वाचन क्षेत्रों में हुए थे। कई निर्वाचित प्रतिनिधियों के निधन और कई के इस्तीफे से पदों के रिक्त होने के कारण ये उपचुनाव कराए जा रहे हैं।

मोबाइल और इंटरनेट सेवाएं फिर से बंद

वहीं बुधवार शाम कश्मीर घाटी में 2जी मोबाइल इंटरनेट सेवाओं पर फिर से प्रतिबंध लगा दिया गया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। पिछले सप्ताह, संसद हमले के दोषी अफजल गुरु और जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (जेकेएलएफ) के आतंकवादी मकबूल भट की बरसी पर कुछ घंटों के लिए इंटरनेट को निलंबित कर दिया गया था।

सोशल मीडिया को भी किया गया ब्लॉक

पिछले साल 5 अगस्त को अनुच्छेद 370 के खत्म होने के बाद से, जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने पिछले महीने पहली बार 2 जी मोबाइल इंटरनेट सेवा बहाल की थी। हालांकि, ब्रॉडबैंड इंटरनेट सेवा अभी तक निलंबित है। सोशल मीडिया को भी ब्लॉक कर दिया गया है और केवल चिह्नित वेबसाइटें इंटरनेट पर उपलब्ध हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल में कोरोना वायरस संक्रमण के 2752 नये आये मामले

कोलकाता : वेस्ट बंगाल कोविड-19 हेल्थ बुलेटिन के अनुसार पश्चिम बंगाल में कोरोना वायरस संक्रमण के पिछले 24 घंटे में 2752 नये मामले आये है आगे पढ़ें »

राममंदिर के शिलान्यास के अवसर पर अपने घरों में दीपावाली मनाएं : रावत

देहरादून : उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने पांच अगस्त को अयोध्या में राममंदिर निर्माण हेतु भूमिपूजन के अवसर पर प्रदेश की जनता से आगे पढ़ें »

ऊपर