आतंकी हाफिज सईद पर पाक सरकार ने कसा शिकंजा, भेजा जेल

Hafiz Saeed convicted in Terror funding and money laundering case

इस्लामाबाद : भारत के खिलाफ जहर उगलने वाले और 2008 के मुंबई हमले के मास्टरमांइड आतंकी हाफिज सईद पर पाकिस्तान सरकार ने शिकंजा कसा दिया है। मंगलवार को लाहौर से गुजरांवाला जाते समय जमात-उद-दावा के सरगना को पाक पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। वहीं मीडिया सूत्रों का कहना है कि उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। हालांकि पाक पहले भी इस तरह के ढोंग कर चुका है, लेकिन गिरफ्तार किए जाने के बाद इन आतंकियों पर कोई भी सख्त कदम नहीं उठाया जाता है।
पाक पाबंदी को झेलने की स्‍थिति में नहीं
दरअसल, पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय दबाव के चलते ऐसा कर रहा है, क्‍योंकि उसे भय है कि अगर उसने इस मामले में कोई कड़ा कदम नहीं उठाया तो फाइनैंशल ऐक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) उसे काली सूची में डाल देगी। मालूम हो कि पाकिस्तान फिलहाल आर्थिक रूप से खस्ताहाल है और अन्य किसी पाबंदी को झेलने की स्‍थिति में नहीं है।
पहले भी मिल चुकी है जमानत

इससे पहले भी आतंकी हाफिज को कई मामलों में पाक की अदालत से जमानत मिल चुकी है। आतंक रोधी विभाग ने लाहौर में हाफिज और उसके अन्य तीन साथी हाफिज मसूद, अमीर हमजा और मलिक जफर पर अवैध तरीक से जमीन हड़पने और उस पर मस्जिद बनाने को लेकर अदालत में केस दायर किया था। बाद में आतंक रोधी अदालत (एटीसी) ने इनको 50-50 हजार रुपये के मुचलके पर 3 अगस्त तक की अंतरिम जमानत दे दी थी। मालूम हो कि पाक सरकार ने आतंकी निरोध एक्ट-1997 के तहत हाफिज के संगठनों जमात-उद-दावा और फलाह-ए-इंसानियत पर भी प्रतिबंध लगा दिया था।
हाफिज पर है 1 करोड़ डॉलर का इनाम
अमेरिका ने बहुत पहले से ही आतंकी हाफिज सईद को वैश्‍विक आतंकी घोषित कर उसके सर पर 1 करोड़ (10 मिलियन) डॉलर का इनाम रखा है। अब अंतरराष्ट्रीय दबाव के चलते पाक खुद के पाले हुए आतंकियों पर कार्रवाई करने के लिए मजबूर है। मार्च में पाक की पंजाब सरकार ने जानकारी दी थी कि जमात-उद-दावा, लश्कर-ए-तैयबा और फलाह-ए-इंसानियत के खिलाफ जांच शुरू कर दी गई है। इस मामले में इन संगठनों द्वारा चलाए जा रहे 160 मदरसे, 32 स्कूल, 2 कॉलेज, 4 हॉस्पिटल, 178 एंबुलेंस और 153 डिस्पेंसरी पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। एक अधिकारी ने जानकारी दी थी कि जमात-उद-दावा संगठन के तहत 300 मदरसे, स्कूल, अस्पताल, एक पब्लिशिंग हाउस और एंबुलेंस सर्विस भी चलती है जिसके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। केवल इतना ही नहीं पाक के सिंध प्रांत में संचालित 56 मदरसों को भी पुलिस ने जब्त कर लिया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

वॉलमार्ट और फ्लिपकार्ट ने भारतीय स्टार्टअप निंजाकार्ट में किया निवेश

नई दिल्ली: वॉलमार्ट और फ्लिपकार्ट ने निंजाकार्ट में संयुक्त निवेश की घोषणा की है। निंजाकार्ट अपने मेड-फॉर-इंडिया बिजनेस-टु-बिजनेस (बी2बी) सप्ला्ई चेन इन्फ्रास्ट्रक्चर और टेक्नोलॉजी सॉल्यूशंस आगे पढ़ें »

दुनिया के उद्योगपति बंगाल में करें निवेश – ममता

बंगाल आपका स्वागत करता है : सीएम दीघा में शुरू हुआ दो दिवसीय बंगाल ​पिजनेस कांक्लेव सन्मार्ग संवाददाता दीघा : नये उद्योग में निवेश के लिए बंगाल की आगे पढ़ें »

ऊपर