ओडिशा: 70 वर्षीय पद्मश्री अवॉर्डी को आईसीयू में करवाया गया डांस, मचा बवाल

भुवनेश्वरः ओडिशा में पद्मश्री से सम्मानित कमला पुजारी को अस्पताल में जबरन डांस कराना एक महिला सामाजिक कार्यकर्ता को भारी पड़ गया है। कार्यकर्ता ने अस्पताल से डिस्चार्ज मिलने से ठीक पहले पुजारी को डांस करने के लिए मजबूर किया था। इस पर अब ओडिशा के परजा आदिवासी समुदाय का गुस्सा भड़क उठा है। समुदाय के सदस्यों ने अब महिला सामाजिक कार्यकर्ता के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है, जिसने कमला पुजारी को डांस करने के लिए कथित तौर पर मजबूर किया। दरअसल, आज सोशल मीडिया पर एक वीडियो सामने आई, जिसमें 70 साल की कमला को सरकारी अस्पताल के आईसीयू वॉर्ड में डांस करते हुए देखा जा सकता है। सामाजिक कार्यकर्ता भी उनके साथ नृत्य करती हुई नजर आ रही है और बैकग्राउंड में एक गाने की आवाज सुनाई दे रही है। पुजारी ने कोरापुट जिले में कहा, ‘मैं डांस नहीं करना चाहती थी, लेकिन मुझे इसके लिए मजबूर किया गया। मैंने बार-बार मना किया लेकिन उन्होंने (सामाजिक कायकर्ता ने) मेरी एक नहीं सुनी। मुझे डांस करना पड़ा। मैं बीमार और थकी थी।’
‘नहीं हुई कार्रवाई, तो सड़कों पर होगा विरोध’

आदिवासी समुदाय के एसोसिएशन पराजा समाज के अध्यक्ष हरीश मुदुली ने कोरापुट में कहा कि अगर सरकार सामाजिक कार्यकर्ता ममता बेहेरा के विरूद्ध कार्रवाई करने में विफल रहती है तो उसके सदस्य सड़कों पर उतरेंगे। मालूम हो कि पुजारी को 2019 में पद्मश्री से सम्मानित किया गया था। वह गुर्दे की बीमारी के कारण एससीबी मेडकिल कॉलेज एवं अस्पतला में भर्ती थीं। पुजारी को ऑर्गेनिक खेती को बढ़ावा देने और धान सहित अलग-अलग फसलों के स्वदेशी बीजों की 100 से ज्यादा किस्मों को संरक्षित करने की उपलब्धि पर पद्मश्री से नवाजा गया था।

अस्पताल प्रशासन ने जारी किया बयान

उन्हें गुर्दे से जुड़ी कुछ परेशानियों की वजह से कटक के एससीबी मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में एडमिट कराया गया था। ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने उनके जल्द ठीक होने की कामना की थी। कमला को जबरन डांस कराने की यह घटना सोमवार को अस्पताल से डिस्चार्ज मिलने से पहले की है। इस घटना पर अस्पताल के अधिकारियों ने कहा कि पुजारी को आईसीयू में नहीं, बल्कि एक स्पेशल केबिन में एडमिट कराया गया था। अस्पताल प्रशासन ने कहा कि जिस महिला कार्यकर्ता पर पुजारी को जबरन डांस कराने का आरोप लगा है, वह अक्सर केबिन में उनसे मिलने आया करती थी और जब वो पुजारी को डांस करा रही थी तब कोई भी नर्स वहां मौजूद नहीं थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

माल हादसे के मृतकों के परिजनों को क्षतिपूर्ति, दिए जाएंगे…..

मालबाजार: माल नदी का जल स्तर बढ़ने से आयी बाढ़ की चपेट में मृतकों के परिजनों को क्षतिपूर्ति की घोषणा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कार्यालय की आगे पढ़ें »

मो. अली पार्क के निकट पूजा ड्यूटी कर रहे पुलिस कर्मी की अस्वाभाविक मौत

कोलकाता : महा दशमी की सुबह मो. अली पार्क के निकट पूजा ड्यूटी कर रहे पुलिस कर्मी की अस्वाभाविक परिस्थितियों में मौत हो गई। घटना जोड़ासांको आगे पढ़ें »

ऊपर