इस दिन करेंगे ऐसा काम तो हो जाएगा नुकसान

कोलकाताः हमने परिजनों से कई बार सुना है कि इस दिन अमुक कार्य नहीं करना चाहिए। ज्योतिष में इसके कई कारण माने गए हैं। उसी प्रकार ज्योतिष में कुछ अन्य कार्यों के बारे में भी बताया गया है जिनके लिए किसी दिन विशेष को करने या न करने का विधान है। जानिए कुछ ऐसे ही करने व न करने योग्य कार्यों के बारे में।
किस दिन न लगाएं तेल

सोमवार को तेल लगाने से यह शुभ फल देता है। इस दिन यह केशों के लिए उत्तम रहता है लेकिन गुरुवार को तेल लगाना शुभ नहीं माना गया है। इसी प्रकार शुक्रवार को भी तेल लगाने का निषेध किया गया है। इसके विपरीत शनिवार को तेल का दान व तेल लगाने को शुभ माना गया है। बुधवार को तेल लगाने से सौभाग्य में वृद्धि होती है।
सूर्यास्त के बाद क्या काम न करें

किसी भी दिन सूर्य अस्त होने के बाद तिल से बनी चीजों का सेवन न करें। रविवार को आंवले का सेवन न करें। इस दिन तुलसी का सेवन भी नहीं करना चाहिए। चतुर्थी तिथि को मूली नहीं खानी चाहिए। अष्टमी को नारियल का सेवन शुभ नहीं माना गया है। एकादशी को चावल न खाएं।
पूजा के दौरान न करें ऐसा
पूजा के दौरान कभी भी एक दीपक से दूसरा दीपक न जलाएं। इसी प्रकार अगरबत्ती से भी दीपक नहीं जलाना चाहिए। एक ही तिल्ही से दो या इससे अधिक दीपक न जलाएं। पूजा के दीपक को स्वयं नहीं बुझाना चाहिए। माना जाता है कि इससे कर्ज बढ़ता है।
किस दिन न काटें नाखून
शनिवार, मंगलवार तथा गुरुवार के दिन नाखून नहीं काटने चाहिए। कहा जाता है कि इन दिनों में ग्रह-नक्षत्रों की वजह से नाखून काटना अशुभ होता है। यह भी माना जाता है कि इस दिन केश नहीं कटाने चाहिए। इसे वर्जित माना गया है। ज्योतिष के अनुसार इससे मनुष्य के शरीर पर प्रतिकूल असर होता है।
नाखून काटने के लिए सोमवार को श्रेष्ठ माना गया है। शनिवार को भूलकर भी केश व नाखून न काटें। शास्त्रों में सोमवार को नाखून व केश काटने को सौभाग्य, सुंदरता और जीवन में वृद्धि का कारक माना गया है।
किस दिन न करें पूरे घर की सफाई

गुरुवार को पूरे घर की सफाई नहीं करनी चाहिए। माना जाता है कि इससे घर की समृद्धि का नाश होता है। इस दिन बाल काटने को भी शुभ नहीं माना गया है। घर की सफाई के लिए रविवार और शनिवार को सबसे श्रेष्ठ माना गया है।

अगर कचरा फेेंकना हो तो सूर्यास्त के बाद के समय को इस कार्य के लिए न चुनें। इसके लिए सुबह या सायं को ठीक माना गया है। सूर्यास्त के बाद कचरा फेंकने से घर में दरिद्रता आती है। ज्योतिष के अनुसार, यह समय ईश्वर के पूजन के लिए होता है। इस दौरान कचरा फेंकने का कार्य न करें।
इस पर करें दया
अगर शनिवार को रास्ते में कोई भिखार मिल जाए तो उसे कुछ जरूर दें। कहा जाता है कि इस दिन यह आपकी मुश्किलें और तमाम बाधाओं का निवारण कर देता है।
शनिवार को कभी कुत्ते को पीटने की भूल न करें। वैसे हर जीव पर दया करनी चाहिए और किसी को भी कष्ट नहीं पहुंचाना चाहिए। शनिवार को विशेष तौर पर ऐसा कार्य न करें।
इन पर सदा प्रसन्न रहते हैं शनिदेव

बहुत कम लोगों को ही यह जानकारी होगी कि शनिवार को हनुमान चालीसा और सुंदर कांड के पाठ का विशेष महत्व है। जिस व्यक्ति पर हनुमानजी की कृपा होती है, शनि देव स्वयं उस पर कृपा करते हैं।
इस दिन तिल का दान करें और काले कुत्ते को सरसों के तेल का हलुआ खिलाएं। कहा जाता है कि ये तीन उपाय करने से उस व्यक्ति पर शनि देव सदैव दयादृष्टि रखते हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

माकपा उम्मीदवार को प्रचार से रोका, पुलिस के साथ हुई झड़प

कोलकाता : बंगाल की भवानीपुर विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव में माकपा के उम्मीदवार श्रीजीब बिस्वास को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के आवास की ओर आगे पढ़ें »

ऊपर