सिर्फ आलू ही नहीं उसके छिलके भी हैं पावरफुल, फेंकने से पहले सोच लें सौ बार

कोलकाता : आलू को सब्‍जियों का राजा का कहा जाता है, क्‍योंकि यह हर प्रकार की सब्‍जी के साथ बिल्‍कुल परफेक्‍ट तरीके से एडजेस्‍ट हो जाता है। वे लोग जिन्‍हें हरी पत्‍तेदार सब्‍जियां खाना पसंद नहीं हैं, वह केवल आलू खाकर ही पूरा जीवन बिता लेते हैं। आलू का पराठा हो या फिर आलू की कोई भी टेस्‍टी सब्‍जी, हर चीज में वह बिना छिलके के प्रयोग किया जाता है। मगर क्‍या आप जानते हैं कि जिस छिलके को आप फेक देते हैं, वह असलियत में पोषक तत्‍व का भंडार है। सब्‍जी बनाते वक्‍त यदि आप उसे छिलके सहित खाएंगे, तो आपको ढेर सारा फाइबर, प्रोटीन, खनिज, विटामिन और फाइटोकेमिकल्स मिल सकता है। इसके सेवन से हमारे शरीर की कौन-कौन सी बीमारियां दूर होती हैं, आइए देखें।
आलू के छिलकों में पाए जाते हैं ये न्‍यूट्रिशन
आलू का छिलका पोटेशियम का एक बड़ा स्रोत है। यदि आप कार्बनिक आलू का छिलका खाते हैं, तो यह आपके चयापचय को बढ़ाने का काम करेगा। आलू के छिलके में ढेर सारा आयरन भी पाया जाता है, जो लाल रक्त कोशिका के कार्य में मदद करता है। फाइबर पेट के कैंसर, हृदय रोग और टाइप 2 मधुमेह के जोखिम को कम करने के अलावा चयापचय को नियंत्रित रखने में सहायक है।
ब्‍लड प्रेशर कंट्रोल करे
आलू की त्वचा या छिलके भी आपके दिल को ठीक से काम करने में मदद करते हैं। यदि आप ऑर्गेनिक आलू की त्वचा खाते हैं तो यह आपको प्राकृतिक रूप से इसके खनिजों – पोटेशियम, मैग्नीशियम और कैल्शियम के माध्यम से आपके रक्तचाप को प्रबंधित करने में मदद करेगा।
हड्डियों के लिए अच्छा
आलू के छिलकों में कुछ खनिज होते हैं जो आपकी हड्डी की संरचना और मजबूती के रखरखाव के लिए आवश्यक होते हैं। इन पोषक तत्वों में आयरन, पोटेशियम, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस, कैल्शियम, तांबा और जस्ता शामिल हैं। आपके शरीर में लगभग 50-60% मैग्नीशियम हड्डियों में रहता है। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के विशेषज्ञों के अनुसार, आलू के छिलके का सेवन हड्डियों के घनत्व को बनाए रखने में मदद कर सकता है और रजोनिवृत्ति के बाद महिलाओं में ऑस्टियोपोरोसिस के खतरे को भी कम कर सकता है।
कैंसर से बचाता है
आलू के छिलके में फाइटोकेमिकल्स भारी मात्रा में पाया जाता है, जो शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट है। इसके अलावा, इसमें उच्च मात्रा में क्लोरोजेनिक एसिड भी होता है, जो कार्सिनोजेन (कैंसर पैदा करने वाला यौगिक) के साथ बांधता है और इस प्रकार, शरीर को कैंसर से बचाता है।
रक्त में कोलेस्ट्रॉल कम करता है
आलू के छिलके में पाया जाने वाला उच्च फाइबर, एंटीऑक्सिडेंट, पॉलीफेनोल्स और ग्लाइकोकलॉइड्स के साथ मिलकर शरीर में जमे कोलेस्ट्रॉल को कम करने का प्रभावी रूप से काम करता है। यदि आप हेल्‍दी जीना चाहते हैं तो अपने आहार में आलू को छिलके समेत ही खाएं तो अच्‍छा है।
दिल की बीमारी का खतरा कम करता है
चूंकि आलू के छिलके एक महत्वपूर्ण और आवश्यक खनिज के रूप में पोटेशियम से भरे होते हैं, इनका सेवन करने से दिल के दौरे और स्ट्रोक का खतरा कम होता है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि पोटेशियम रक्तचाप को कम करने और हृदय को स्‍वस्‍थ बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। आलू के छिलके में ओमेगा -3 फैटी एसिड भी पाया जाता है।
त्वचा की देखभाल के लिए
आलू का छिलका त्वचा की समस्याओं के लिए बहुत अच्छा होता है। आप अपनी त्वचा को गोरा करने, मुंहासे, ब्लैकहेड्स और वाइटहेड्स का इलाज करने और अत्यधिक तेल को कम करने के लिए, इसका उपयोग कर सकते हैं। आपको बस इतना करना है कि प्रभावित क्षेत्र पर कॉटन पैड की मदद से आलू का रस अप्‍लाई करें। इसे 15-20 मिनट तक रखें और फिर गुनगुने पानी से धो लें।
बालों की देखभाल के लिए
आलू का छिलका बालों में चमक लाता है। साथ ही बालों को तेजी से बढ़ाने में भी मदद करता है। आलू के छिलके का रस अपने स्कैल्प पर लगाएं और 5 से 10 मिनट तक धीरे से मसाज करें। इसे सामान्य पानी से धो लें।

शेयर करें

मुख्य समाचार

एक ओवर में 3 विकेट झटक शाहबाज ने पलटा पासा, 6 रन से जीता बेंगलोर

चेन्नई : आईपीएल 2021 के छठे मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) ने सनराइजर्स हैदराबाद को करीबी मुकाबले में 6 रन से हरा दिया। टॉस आगे पढ़ें »

भारतीय हॉकी टीम ने अर्जेंटीना को 4-2 से हराया

ब्यूनस आयर्स : भारतीय हॉकी टीम ने आखिरी अभ्यास मैच में बुधवार को अर्जेंटीना को 4-2 से हराया। भारत के लिये रूपिंदर पाल सिंह, जसकरण आगे पढ़ें »

ऊपर