छठ पूजा में जुलूस नहीं, वाहनों से ही जाना पड़ेगा घाट : हाई कोर्ट

कोलकाता : कोविड-19 पैनडेमिक का हवाला देते हुए हाई कोर्ट के जस्टिस संजीव बनर्जी और जस्टिस अरिजीत बनर्जी के डिविजन बेंच ने छठ पूजा में जुलूस के साथ घाटों व वाटर बॉडी पर जाने पर रोक लगा दी है। मंगलवार को इस बाबत दिए गए आदेश में कहा गया है कि सिर्फ वाहनों से ही घाट पर जाने की अनुमति होगी। डीजे जैसे बैंड और आतिशबाजी पर पूरी तरह रोक लगा दी गई है। एडवोकेट सब्यसाची चटर्जी ने यह जानकारी देते हुए बताया कि घाटों या वाटर बॉडी पर पहुंचने वाले वाहनों में से सिर्फ दो या तीन लोग ही उतर कर रीति रिवाज का पालन करने जाएंगे। लोगों की भीड़ लगने की इजाजत नहीं है।
जरूरत पड़ने पर पुलिस लगा सकती है धारा 144
पुलिस को इस पर नियंत्रण करने का आदेश देते हुए डिविजन बेंच ने कहा कि जरूरत पड़ने पर पुलिस धारा 144 भी लगा सकती है। गंगा या वाटर बॉडी के पानी में किसी वस्तु को डाले जाने की अनुमति नहीं है। हालांकि एडवोकेट जनरल किशोर दत्त ने कहा कि लोगों से यह कहना बहुत ही मुश्किल है कि कुछ लोग ही छठ पूजा के लिए घाट पर जाए और बाकी लोग घरों में ही रहें। उन्होंने कोर्ट से अनुरोध किया कि वह प्रशासन पर भरोसा कर, कोर्ट के आदेश का पालन पूरी तरह किया जाएगा।
छठ पूजा करने वाले कोविड-19 की गाइड लाइन का पालन करें
इस मौके पर पटिशिनर की तरफ से पैरवी करते हुए एडवोकेट विकास रंजन भट्टाचार्या ने कहा कि पिछले साल की रवींद्र सरोवर की घटना से यह भरोसा नहीं होता है। इसके जवाब में जस्टिस संजीव बनर्जी ने अपने आदेश में कहा है कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला नहीं आने तक छठ पूजा करने वाले लोग रवींद्र सरोवर और सुभाष सरोवर से फासला बना कर ही रखें। डिविजन बेंच ने कोलकाता में केएमसी और जिन क्षेत्रों में छठ पूजा होती है वहां की नगरपालिकाओं को माइक से प्रचार कर के लोगों से अपील करने का आदेश दिया है। इसके साथ ही डिविजन बेंच ने आदेश दिया कि छठ पूजा करने वाले कोविड-19 की गाइड लाइन का पालन करेंगे। मसलन मास्क, सेनेटाइजर और फिजिकल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करेंगे। जस्टिस संजीव बनर्जी ने प्रशासन से कहा कि इस पैनडेमिक के दौरान लोगों के जीवन की रक्षा करने की जिम्मेदारी उन्हें निभानी पड़ेगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

मास्क पहनने के लिए कहने पर महिला यात्री से बदसलूकी, एक गिरफ्तार

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : ऑटो में बिना मास्क के सफर कर रहे व्यक्ति को मास्क पहनने को कहना एख महिला को काफी महंगा पड़ा गया। आरोप आगे पढ़ें »

पुलिस कर्मियों में संक्रमण बढ़ते देख फिर चालू हो रहा क्वारंटाइन सेंटर

डुमुरजला पुलिस अकादमी और भवानीपुर पुलिस अस्पताल में चालू हुआ केन्द्र सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : महानगर में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। पिछले आगे पढ़ें »

ऊपर