पीरियड्स टालने के लिए ‘पिल’ नहीं, ये घरेलू नुस्खे आएंगे काम

नई दिल्ली : कई बार महिलाओं के साथ ऐसी स्थिति आती है जब वे नहीं चाहती कि उस समय पर उनके पीरियड्स आएं। खासतौर पर पूजा-पाठ के समय, घूमने जाने के दौरान या हनीमून और फर्स्ट नाइट के समय। ऐसे में महिलाएं अक्सर दवा का सेवन करती हैं लेकिन क्या आप जानते हैं इन दवाओं के दुष्प्रभाव भी होते हैं। यदि आप भी नैचुरली पीरियड्स डिले करना चाहती हैं तो आज हम आपको कुछ ऐसे नुस्खे बता रहे हैं जो लाइफ टाइम आपके काम आएंगे।
एप्पल साइडर

शरीर को डिटॉक्सीफाई करने और वजन घटाने के लिए लोकप्रिय सेब के सिरके के बारे में कहा जाता है कि ये पीरियड्स को डिले करने में मदद कर सकता है। बहुत से शोधकर्ताओं ने अपने शोध में पाया है कि एप्पल साइडर में मौजूद एक्स्ट्रा एसिडिक कंटेट कुछ हद तक माहवारी को टालने में मदद कर सकता है। इसके लिए पीरियड्स की आने वाली डेट से 10-12 दिन पहले से गर्म पानी में रोजाना सेब के सिरके की एक बड़ी चम्मच डालकर पिएं।

चने की दाल

मासिक धर्म को कुछ समय के लिए टालने के लिए चने की दाल का उपयोग करें। इस बात के कई प्रमाण भी हैं लेकिन इसके कुछ दुष्परिणाम भी हैं। चने की दाल के अधिक सेवन से पाचन संबंधी समस्याएं और पेट फूलना जैसी स्थिति हो सकती है। नींबू का रस

सेब के सिरके की तरह ही नींबू के रस को भी मासिक धर्म टालने के लिए उपयोगी माना जाता है। नींबू के रस को विटामिन-सी से भरपूर गुणों के लिए जाना जाता है। ये सिट्रस अर्क आपके पीरियड्स में देरी करने में काम आ सकता है। मासिक चक्र टालने के लिए डेट से पहले और आने वाले दिनों में विटामिन सी से भरपूर फल, सब्जियां और जूस लें।

मुल्तानी मिट्टी

आयुर्वेद के अनुसार, मुल्तानी मिट्टी का उपयोग न केवल त्वचा के बेहतर स्वास्थ्य के लिए अच्छा है, बल्कि आपके पीरियड्स में भी देरी कर सकता है जो महिलाएं मासिक धर्म में देरी करना चाहती हैं, उन्हें एक कप गर्म पानी के साथ लगभग 25-30 ग्राम मुल्तानी मिट्टी मिलाएं और पीरियड्स की डेट आने से एक सप्ताह पहले से नियमित रूप से इसे लेते रहें।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

ढलाई वाली मशीन ले जा रही पिकअप वैन पलटी, 1 की मौत, 4 घायल

मिदनापुर : ढलाई करने में काम आने वाली मशीन को लाद कर ले जा रही एक पिकअप वैन के रास्ते के किनारे पलट जाने की आगे पढ़ें »

मोदी का एकमात्र विकल्प ममता : कुणाल

कोलकाता : गुजरात में भाजपा की जीत पर प्रतिक्रिया देते हुए तृणमूल के प्रवक्ता कुणाल घोष ने कहा कि राष्ट्रीय राजनीति में मोदी का विकल्प आगे पढ़ें »

ऊपर