नवरात्रि में कभी मां दुर्गा को नहीं चढ़ाएं ये चीज, माने गए हैं बेहद…

कोलकाताः शारदीय नवरात्रि का आरंभ 26 सितंबर से हो चुका है। नवरात्रि के 9 दिनों की अवधि में मां दुर्गा की विशेष पूजा-अर्चना और उपाय किए जाते हैं। मां दुर्गा की उपासना में कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना होता है। नवरात्रि में मां भगवती को क्या चढ़ाएं और क्या ना चढ़ाएं इसे लेकर भक्तों में उलझन बनी रहती है। शास्त्रों में कुछ ऐसी चीजों का जिक्र किया गया है जिसे चढ़ाने से मां दुर्गा अशुभ फल दे सकती हैं। ऐसे में मां नवरात्रि के दौरान मां दुर्गा की पूजा में पूजन सामग्रियों का इस्तेमाल करते समय खास सावधानी बरती जाती है।

नवरात्रि में मां दुर्गा को ना चढ़ाएं ये चीज

– नवरात्रि के 9 दिन मां दुर्गा के नौ स्वरूपों की उपासना का विधान है। मां दुर्गा के हर स्वरूप को अलग-अलग रंगों के पुष्प अर्पित किए जाते हैं। नवरात्रि के दौरान मां दर्गा को हमेशा ताजे, खुशबूदार और लाल रंग के फूल अर्पित करने चाहिए। बासी मां दुर्गा को अर्पित करने से बचना चाहिए। माना जाता है कि ऐसा करने से मां नाराज हो जाती हैं, जिस कारण घर-परिवार में परेशानियां शुरू हो जाती है।

– नवरात्रि पूजन में लाल रंग के फूलों का इस्तेमाल किया जाता है। नवरात्रि के दौरान मां दुर्गा को कनेर, धतूरा, हरऋंगार, बेल और मदार इत्यादि के फूल भूल से भी अर्पित नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से मां दुर्गा की नाराजगी झेलनी पड़ सकती है।

– पूजा-पाठ में अक्षत का विशेष महत्व है। मान्यता है कि कोई भी पूजा या अनुष्ठान अक्षत के बिना पूरा नहीं होता है। यही कारण है कि पूजा में अक्षत को विशेष महत्व दिया जाता है।नवरात्रि के दौरान मां दुर्गा की पूजा में उन्हें अक्षत अर्पित करते समय इस बात का विशेष ध्यान रखें वो टूटे हुए यानी खंडित ना हो। माता को अक्षत अर्पित करने से पहले उसे गंगाजल से शुद्ध कर लेना चाहिए।

– नवरात्रि में हर मां दुर्गा को उनके प्रिय चीजों का भोग लगाया जाता है। ऐसे में नवरात्रि के दौरान हर दिन माता को सात्विक चीजों का भोग लगाएं। भोग की वस्तुओं को प्याज और लहसुन के संपर्क में ना आने दें। नवरात्रि में कोशिक करें कि मां दुर्गा को घर की बनी दूध की मिठाईयां भोग लगाएं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

मोदी का एकमात्र विकल्प ममता : कुणाल

कोलकाता : गुजरात में भाजपा की जीत पर प्रतिक्रिया देते हुए तृणमूल के प्रवक्ता कुणाल घोष ने कहा कि राष्ट्रीय राजनीति में मोदी का विकल्प आगे पढ़ें »

शुभेंदु ने दिया डेडलाइन : 12, 14 और 21 दिसंबर है महत्वपूर्ण

कोलकाता : इस वक्त की बड़ी खबर आ रही है कि भाजपा नेता शुभेंदु अधिकारी ने बड़ा दावा किया है। उन्होंने दिसंबर में हाेने वाले आगे पढ़ें »

ऊपर