रीता बहुगुणा के बेटे को टिकट मिली तो वे सांसदी छोड़ने को हैं तैयार

लखनऊः उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा के तमाम नेता पाला बदल चुके हैं। ऐसे में चर्चा है कि भाजपा सांसद रीता बहुगुणा जोशी भी नाराज चल रही हैं। इन सबके बीच रीता बहुगुणा जोशी ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा, मेरा बेटा 12 साल से भाजपा में काम कर रहा है। ऐसे में उसने टिकट मांगा है। यह उसका अधिकार भी है। रीता बहुगुणा जोशी ने बताया कि उनके बेटे ने लखनऊ कैंट से टिकट मांगा है। उन्होंने कहा, अगर पार्टी उनके बेटे को टिकट देती है, तो वे सांसद पद से इस्तीफा देने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा, ये बात उन्होंने भाजपा नेतृत्व को भी बता दी है।
‘2024 में लोकसभा चुनाव लड़ूंगी’
रीता जोशी ने कहा, अगर पार्टी ने नियम बनाया है कि एक परिवार से एक ही व्यक्ति को टिकट दिया जाएगा। ऐसे में अगर मेरे बेटे को लखनऊ कैंट से टिकट मिलता है, तो मैं सांसद पद से इस्तीफा देने के लिए तैयार हूं। न ही मैं 2024 में लोकसभा चुनाव लड़ूंगी। उन्होंने कहा, मैं ये पहले ही ऐलान कर चुकी हूं।
कई सांसद अपने बेटे के लिए मांग रहे टिकट

भाजपा में कई सांसद हैं, जो अपनी सियासी विरासत को आगे बढ़ाने के लिए बेटे-बेटियों को चुनावी मैदान में उतारना चाहते हैं। प्रयागराज से सांसद रीता बहुगुणा जोशी लखनऊ कैंट सीट से अपने बेटे मयंक जोशी को चुनाव लड़ाना चाहती हैं। रीता बहुगुणा जोशी इस सीट से दो बार विधायक रह चुकी हैं और अब वो इस सीट से अपने बेटे को विधायक बनाना चाहती हैं। इसके अलावा सलेमपुर लोकसभा सीट से भाजपा सांसद रवींद्र कुशवाहा अपने छोटे भाई जयनाथ कुशवाहा को भाटपाररानी विधानसभा सीट से चुनाव लड़ाने के लिए दावेदारी कर रहे हैं।
शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

पानीहाटी में तृणमूल कार्यालय पर बमबारी

पानीहाटी : खड़दह थाना अंतर्गत पानीहाटी के एंजेल नगर इलाके में कुछ समाज विरोधियों ने पहले बमबारी की। इसके बाद बीटी रोड मातारंगी भवन नामक आगे पढ़ें »

ऊपर