हावड़ा में बेटी को बचाने के लिए मां ने खुद मौत को गले लगा लिया

ट्रक घसीटते हुए मीलों दूर ले गया महिला को
हावड़ा : हावड़ा में बेटी को बचाने के लिए मां ने खुद मौत को गले लगा लिया। यह घटना है धूलागढ़ के फटीकगाछी की। मंगलवार को छोटी बेटी को स्कूल में भर्ती कराने के लिए जा रही एक महिला दुर्घटना की शिकार हो गयी। उसका नाम शम्पा मन्ना (42) था। मंगलवार की दोपहर 12 बजे वह अपनी बेटी पूर्वाशा को लेकर कुलडांगा विवेकानंद बालिका विद्यालय में भर्ती कराने के लिए जा रही थी। उसी समय महिला के पीछे साइड से एक लॉरी तेज गति से गुजर रही थी। तभी लॉरी ने उसे अपनी चपेट में ले लिया। पहले लॉरी उसे घसीटते हुए कई मीलों दूर ले गयी। बाद में पिछले चक्के के नीचे महिला का सिर आ गया और घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गयी। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि जिस समय लॉरी अचानक पीछे से आयी तो शम्पा ने मां का कर्तव्य निभाते हुए अपनी बच्ची को एक साइड में धकेल दिया जिसके कारण भर्ती होनेवाली बच्ची को थोड़ी चोट आयी लेकिन उसकी जान बच गयी। यह देखकर रोड पर मौजूद लोगों की आंखों में भी आंसू आ गये। शम्पा के पति का कहना था कि वह अपनी बच्ची की ऑनलाइन क्लास से परेशान थी और स्कूल खुलते ही उसे वह भर्ती कराने के लिये जा रही थी। वह चाहती थी कि उसकी बच्ची पढ़-लिखकर योग्य बने।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

बंगालः पति ने पत्नी को किया चाकू से लहूलुहान, एसिड भी फेंका

घोला : घोला थाना अंतर्गत बिलकांदा ग्राम पंचायत के कर्णमधुपुर निवासी रिया दास पर बुधवार उसके पति विप्लव दास ने चाकू से हमला करते हुए आगे पढ़ें »

ऊपर