मालदह के 3 विधानसभा केंद्रों में मतुआ महासंघ के उम्मीदवार

भाजपा ने कहा कि इसका कोई खास असर नहीं पड़ेगा
तृणमूल ने कहा हमारे साथ थे और साथ रहेंगे
मालदह : मालदह के तीन विधानसभा केंद्रों से भारत मतुआ महासंघ ने उम्मीदवार देने का फैसला लिया है। इस वजह से तृणमूल कांग्रेस और भाजपा दोनों की मुश्किलें बढ़ गई हैं। मालदह, अंग्रेजबाजार और गाजोल विधानसभा केंद्रों से महासंघ ने उम्मीदवार देने की तैयारी शुरू कर दी है। भाजपा के जिला अध्यक्ष गोविंद चंद्र मंडल का दावा है कि भाजपा के वोट बैंक पर इसका कोई असर नहीं पड़ेगा। तृणमूल कांग्रेस के जिला कोऑर्डिनेटर दुलाल सरकार का कहना है कि मतुआ संप्रदाय को गलत सपने दिखा कर भाजपा अपने पाले में ले आयी थी। मतुआ तृणमूल के साथ थे और साथ रहेंगे।
मालदह जिले में मतुआ संप्रदाय का काफी प्रभाव है। उत्तर बंगाल में मतुआ के साथ भाजपा ने छल किया है और मतुआ संप्रदाय के लोगों को उम्मीदवार नहीं बनाया है। मतुआ संप्रदाय के लोग इस बात से नाराज हैं। इस वजह से उन्होंने उत्तर बंगाल सहित अन्य क्षेत्रों में उम्मीदवार खड़ा करने की तैयारी कर ली है। अप्रैल में उनकी बैठक होनी और उसमें यह फैसला लिया जाएगा। सारा भारत मतुआ महासंघ के उत्तर बंगाल के पर्यवेक्षक रंजीत सरकार ने कहा कि उत्तर बंगाल में मतुआ लोगों के साथ छल किया गया है। इसी वजह से उम्मीदवार दे रहे हैं। उन्होंने माना कि तैयारी के लिए समय कम होने के कारण जीतने की संभावना कम है, इसके बावजूद कुछ सीटों पर मतुआ संप्रदाय के लोग निर्णायक भूमिका निभाएंगे। भाजपा के जिला अध्यक्ष ने कहा कि इसके पीछे तृणमूल कांग्रेस की साजिश है। तृणमूल ने इसे खारिज करते हुए कहा कि मतुआ संप्रदाय के लोग भाजपा के बारे में समझ गए हैं इसलिए वे तृणमूल के साथ ही रहेंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

..झाड़ियों में मिली एक दिन की बच्ची

हरियाणा : फतेहाबाद के गांव बरसीन के पास झाड़ियों में 1 दिन की नवजात बच्ची बोरे में मिली है। शुक्रवार सुबह राहगीरों ने झाड़ियों में आगे पढ़ें »

हैवानियत ने शर्मसार किया रिश्ते को : अपाहिज पत्नी के साथ जबरन बनाता था संबंध, प्राइवेट पार्ट में डालता था…

पानीपत : हरियाणा के पानीपत से पति-पत्नी के रिश्ते को शर्मसार करने वाली खबर सामने आई है। यहां एक पति ने अपनी पत्नी के साथ आगे पढ़ें »

ऊपर