मलेशिया : विवादित बयान को लेकर फंसे जाकिर नाइक, पुलिस करेगी पूछताछ

naik

कुआलालंपुर : मले‌शिया में इस्लामिक धर्म प्रचारक जाकिर नाइक एक विवादित बयान में फंस गए। हाल ही में उन्होंने एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि मलेशिया में हिंदुओं को भारत के मुस्लिमों की तुलना में 100 गुना अधिक अधिकार हैं। मलेशिया प्रशासन ने नाइक को उनके इस  नफरत फैलाने वाले बयान को लेकर पूछताछ के लिए बुलाया है। वहीं मलेशिया के गृहमंत्री मुहीद्दीन यासीन ने कहा कि नाइक का बयान नस्लीय भेदभाव और संवेदनशील मामला, जिसको मद्देनजर रखते हुए पुलिस उनसे पूछताछ करेगी। बताया जा रहा है कि नाइक मलेशिया में पिछले तीन साल से रह रहा हैं।

सामाजिक सद्भावना और शांति भंग करने वाले लोगों के खिलाफ एक्‍शन में सरकार : यासीन

गृहमंत्री मुहीद्दीन यासीन ने बताया कि मलेशिया में सामाजिक सद्भावना और शांति भंग करने वाले लोगों को सरकार कतई नहीं छोड़ेगी। साथ ही उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों पर सरकार कड़ी कानूनी कार्रवाई करेगी। बता दें कि मलेशिया की जनसंख्या लगभग 3 करोड़ 20 लाख के आस-पास हैं, जिसमें मुस्लिमों की संख्या लगभग 60 फीसदी है। इसके बाद सर्वाधिक जनसंख्या हिंदुओं की है जिनका यहां के राजनीति और कारोबार में काफी प्रभाव है। ऐसे में जाकिर नाइक द्वारा दिया बयान सरकार की ओर से दोनों पक्षों के लिए भड़काऊ माना जा रहा है।

नाइक के प्रत्यर्पण को तैयार : मलेशिया सरकार

मलेशिया के मानव संसाधन विकास मंत्री एम. कुलसेगरन ने कहा कि जाकिर नाइक पर यहां के करदाताओं से पैसे लेकर मौज कर रहा। करदाताओं की ओर उस पर कई आरोप लगाए गए हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि नाइक को भारत के हवाले कर देना चाहिए। मालूम हाे कि मलेशिया के प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद नाइक को भारत को सौंपने के लिए पहले ही मना कर चुके है। लेकिन अब नाइक द्वारा मलेशिया में नफरत फैलाने के बाद और वहां के लोगों ने उसका विरोध करना शुरू कर दिया है। इन सबको देखते हुए मलेशिया सरकार का भी नजरिया नाइक के प्रति बदला है। मलेशिया के प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद ने कहा है कि अगर और देश जाकिर को लेना चाहे तो उसका स्वागत है।

 

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

courtsy

योगी सरकार की कार्रवाई पर इलाहाबाद हाई कोर्ट ने लगाई रोक

लखनऊ : इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ उत्तर प्रदेश में हुए हिंसक प्रदर्शन के दौरान नुकसान की भरपाई के लिए आगे पढ़ें »

bengal

मालदा में पुल ढहने को लेकर भाजपा और तृणमूल ने एक-दूसरे पर साधा निशाना

मालदा : पश्चिम बंगाल के मालदा जिले में निर्माणाधीन पुल का एक हिस्सा ढहने की घटना को लेकर सोमवार को सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस और विपक्षी आगे पढ़ें »

ऊपर