मध्य प्रदेश : पन्ना में हीरा खदान से 29.46 कैरेट का हीरा मिला

DIAMOND

पन्ना : मध्य प्रदेश के पन्ना जिले के कृष्णाकल्याणपुर (पटी) क्षेत्र में हीरा खदान संचालक बृजेश उपाध्याय को शुक्रवार के दिन 29 कैरेट 46 सेंट का उज्जवल जैम क्वालिटी का हीरा मिला। इस बात की जानकारी जिला कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने दी। इस बेशकीमती हीरे की सही-सही कीमत का पता नहीं चल सका, लेकिन कहा जा रहा है कि इसकी अनुमानित कीमत करोड़ो में हो सकती है।

शासकीय हीरा कार्यालय में जमा करवाया गया

पन्ना जिले में मिले हीरे को शासकीय हीरा कार्यालय में जमा कराया गया है। पन्‍ना के खनिज अधिकारी आरके पांडेय ने हीरा कार्यालय में पदस्थ पारखी से हीरे की जांच कराकर वजन कराया।


लंबे समय से खदानों में काम कर रहे है

कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने बताया कि जल्द ही हीरे की निलामी की जाएगी और उससे जो पैसा मिलेगा, उसमें से टैक्स काट कर बृजेश उपाध्याय को दिया जाएगा। शर्मा ने कहा कि बृजेश लंबे समय से हीरे की खदान में खोदने का संचालन कर रहे है, ताकि उन्हें वहां से हीरा मिल सकें।

25 साल से हीरे की तलाश में था बृजेश

बृजेश ने बताया कि वह पिछले 25 साल से हीरे की खदान को खोदने के साथ संचालन का काम कर रहा है। उसने बताया कि खुदाई के दौरान जब हीरे पर नजर पड़ी, तो एकबार लगा कि वह कांच का कोई टुकड़ा है, लेकिन गौर से देखा तो पता चला कि यह हीरा है। इसके बाद उसकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा। साथ ही बृजेश ने बताया कि इससे पहले भी खुदाई में 4 से 5 सेंट के हीरे मिल चुके है, लेकिन इतना बड़ा हीरा पहली बार मिला है।

आठ महीने पहले भी मिला था हीरा

मालूम हो कि आज से आठ महीने पहले भी पन्ना के मोतीलाल नाम के एक मजदूर को 42 कैरेट 59 सेंट वजन का नायाब हीरा मिला था। इसकी नीलामी 6 लाख रूपये प्रति कैरेट की दर हुई थी। इसकी वजह से वह हीरा 2 करोड़ 55 लाख रूपये में बिका था। इस हीरे को झांसी के निवासी राहुल अग्रवाल ने खरीदा था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

करीमपुर उपचुनाव से होगा बंगाल विधानसभा के विजय का आगाज : विजयवर्गीय

नदियाः नदिया के करीमपुर विधानसभा उपचुनाव से बंगाल विधानसभा पर विजय का आगाज होगा, शनिवार शाम करीमपुर के महिषबथान में गांधी संकल्प यात्रा को केंद्र आगे पढ़ें »

बीजीबी की फायरिंग में बीएसएफ जवान की मौत की घटना दुर्भाग्यजनक : शुभेन्दु अधिकारी

मुर्शिदाबाद : मुर्शिदाबाद के जलंगी में बीजीबी की फायरिंग में बीएसएफ जवान की मौत की घटना दुर्भाग्यजनक। परिवहन मंत्री और तृणमूल के जिला पर्यवेक्षक शुभेन्दु आगे पढ़ें »

ऊपर