घर की सफाई करते समय कहीं आप भी तो नहीं करती ये गलतियां…

कोलकाता : घर छोटा हो या बड़ा वो तभी अच्छा लगता है जब पूरी तरह से साफ सुथरा हो। घर में किसी भी प्रकार की गंदगी स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होती है। अगर घर में बच्चें या अस्थमा के मरीज हैं तो घर को अच्छे से साफ रखना जरूरी हो जाता है। घर की सफाई को लेकर माना जाता है कि जिस घर में गंदगी होती है वहां पैसों की किल्लत रहती है। इसलिए हमारे बड़े हमेशा घर को साफ रखने की हिदायत देते हैं। वैसे तो सफाई सभी कर लेते हैं लेकिन सफाई के दौरान कुछ ऐसी गलतिया करतें हैं जिससे घर पूरी तरह से साफ ना होने की वजह से सेहत पर बुरा असर डालता है। इसलिए घर की सफाई करते समय इन बातों का ध्यान जरूर रखें…
1.डस्टिंग के बाद वैक्यूम न करना : अक्सर लोग सफाई करते समय सिर्फ डस्टिंग कर के ही संतुष्ट हो जाते हैं। उन्हें लगता है कि उनका घर साफ हो चुका है। लेकिन बता दें कि डस्टिंग करने के बाद अपने घर को वैक्यूम क्लीनर से जरूर साफ करें। क्योंकि डस्टिंग करने से धूल मिट्टी फ्लोर पर ही रह जाती है। जिससे कई तरह की बीमारियां आपको अपनी चपेट में ले सकती हैं। अमेरिकन कॉलेज ऑफ एलर्जी, अस्थमा एंड इम्म्युनोलॉजी के अनुसार डस्ट से एलर्जी होती जिसमें खुजली, छींके, खांसी होने के साथ अस्थमा का अटैक भी आ सकता है।
2. फफूंदी पर ध्यान न देना : फफूंदी कई प्रकार की होती हैं। एक्सपर्ट की मानें तो फफूंदी साफ करते समय कई बातों को ध्यान में रखना जरूरी होता है। एक्सपर्ट बताते हैं कि फफूंदी को गर्म पानी के साथ डिटर्जेंट से साफ करना चाहिए। फफूंदी को पूरी तरह खत्म करने के लिए साफ करने के बाद डिसइंफेक्टेड जरूर डालें।
3. किचन के समान को साफ करना न भूलें : आम तौर पर लोग सफाई तो कर लेतें हैं लेकिन यह भूल जाते हैं कि आप जिस चीज से साफाई कर रहे हैं वो कितना साफ है। घर की सफाई के साथ आपको डस्टिंग करने वाले कपड़े को समय पर बदलते रहना चाहिए, पोछे को हमेशा धोकर सूखा कर ही रखें, अपने माइक्रोवेव को साफ कपड़े से गीला करके रोजाना साफ करें, सिंक को हल्के गर्म पानी से समय-समय पर वॉश करते रहें। ताकि बैक्टीरिया आपकी सेहत को नुकसान न पहुंचा सकें।
4.जल्दबाजी में सफाई करना : आजकल भाग दौड़ भरे जीवन में समय ना होने की वजह से लोग हर काम जल्दी-जल्दी करना चाहंते हैं। लेकिन जल्दबाजी में घर की सफाई करना आपके लिए खतरनाक हो सकता है। क्योंकि जर्म्स और बैक्टीरिया को पूरी तरह से साफ करने के लिए सभी सेनिटाइजर और डिसइंफेक्टेड को कम से कम 60 सेंकेंड से 10 मिनट तक छोड़ना जरूरी होता है। क्योंकि स्प्रे करते ही वॉश करने से जर्म्स रह जाते हैं।
5. धूप के समय खिड़की धोना : अक्सर देखने को मिलता है कि लोग धूप में घर की खिड़कियां धोते हैं। लेकिन एक्सपर्ट की मानें तो खिड़कियों को धूप में धोने के बजाए शाम के समय ही धोना चाहिए। क्योंकि धूप पानी को जल्दी सूखा देती है। जिस वजह से शीशे पर धारियां पड़ जाती हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

सचमुच वजन और चर्बी घटा सकता है सौंफ का पानी…

कोलकाता : अगर आप बढ़ते मोटापे से परेशान हैं तो ये खबर आपकी मदद कर सकती है। इस खबर में हम आपके लिए सौंफ पानी आगे पढ़ें »

ऊपर