साढ़े तीन साल बाद जेल से बाहर आएंगे लालू, कोर्ट ने रखी शर्त- पता और मोबाइल नंबर नहीं बदल सकेंगे

रांची : चारा घोटाले में सजायाफ्ता RJD सुप्रीमो लालू यादव को झारखंड हाईकोर्ट से जमानत मिल गई है। जस्टिस अपरेश सिंह की अदालत में शनिवार को हुई सुनवाई में उन्हें जमानत दे दी गई। उन्हें एक लाख रुपए का मुचलका और 10 लाख रुपए जुर्माना देना होगा। बेल बॉन्ड भरने के बाद वे एक-दो दिन में जेल से बाहर आ जाएंगे।
हाईकोर्ट ने कहा है कि जमानत के दौरान लालू प्रसाद यादव देश से बाहर नहीं जाएंगे। देश से बाहर जाने से पहले उन्हें कोर्ट से परमिशन लेनी होगी। इसके साथ ही अपना मोबाइल नंबर और अपना पता नहीं बदलेंगे। लालू को ये जमानत दुमका ट्रेजरी मामले में आधी सजा पूरी होने के बाद दी गई है। इससे पहले लालू यादव को अक्टूबर 2020 में चाईबासा ट्रेजरी मामले में जमानत मिल गई थी, लेकिन दुमका ट्रेजरी केस की वजह से उनकी रिहाई नहीं हुई थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

हिमंत बिस्वा सरमा होंगे असम के अगले मुख्यमंत्री

बीजेपी विधायक दल की बैठक में फैसला असम : असम में एक हफ्ते से जारी सीएम के नाम पर सस्पेंस रविवार को खत्म हो गया। बीजेपी आगे पढ़ें »

‘कोरोना के लिए जरूरी दवाओं और उपकरणों से हटाएं टैक्स और ड्यूटी’

कोलकाता : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर उनसे कोविड-19 महामारी से लड़ने में इस्तेमाल होने आगे पढ़ें »

ऊपर