जानिए साथी के साथ कब बनाएं शारीरिक सम्बन्ध

कोलकाता : आपको लग रहा होगा कि मैं इसमें 24 घंटे के टाइम की बात करने जा रहा हूं तो खबर का मतलब यह नहीं है। मानव जीवन में सबसे बहुमूल्य चीज कुछ है तो वह है प्रेम। प्रेम संबंधों के स्थायित्व के लिए सबसे जरूरी कोई चीज है तो वह है सेक्स। साइंस के अनुसार इससे सभी इन्द्रियों का एक सम्पूर्ण व्यायाम भी हो जाता है। विज्ञान भी कहता है कि शारीरिक सम्बन्ध मात्र उत्तेजना की संतुष्टि के लिए या सन्तानोत्त्पत्ति के लिए नहीं होते। और न ही ये कोई ऑफिस वर्क है जो एक किसी भी सूरत में करना ही करना है।

प्रेम बढ़ाने के लिए सेक्स जरूरी है और उसके लिए जरूरी है आपका मन अच्छा हो। सेक्स कोई नशा नहीं है जो कि थकान होने पर या चिड़चिड़ाहट होने पर रिलैक्स होने के लिए कर लिया जाए। ध्यान रहे जिस समय मन पर कोई भी दवाब न हो उस समय किया गया सेक्स हमेशा सकारात्मक और संतुष्टि देने वाला होता है। ओशो कहते हैं कि शारीरिक सम्बन्ध मनुष्य की प्रेम-अभिव्यक्ति है, जिसे उपर्युक्त समय में करना चाहिए।

आइये जानते हैं कि कौन सा समय होता है जब बनाये गए शारीरिक सम्बन्ध सबसे प्रभावी होते हैं। शोधकर्ताओं के अनुसार सुबह उठने से पहले महिला और पुरुष दोनों में टेस्टोस्टेरॉन का लेवल सबसे उच्च होता है। सेक्स संबंधों के लिए टेस्टोस्टेरॉन पहली आवश्यकता है। सुबह का सेक्स न सिर्फ आपसी मधुरता बढ़ता बल्कि यह शरीर के लिए भी लाभ दायक है। इतना ही नहीं इस समय एक असीम ऊर्जा का संचरण शरीर में होता है। वहीं मानसिक रूप से भी दोनों कहीं उलझे हुए नहीं होते हैं।

इस लिहाज से देखा जाए तो सेक्स के लिए इससे बेहतर समय कोई दूसरा नहीं हो सकता। इससे आप पूरे दिन खुश रहते हैं और अन्य कामों में भी रूचि आती है। यह सबसे प्राकृतिक और ताज़ा सम्भोग होता है जिसमें आप अपने शरीर की प्राकृतिक अभिव्यक्तिओं पर बनावटी नियंत्रण नहीं रख पाते। इसके बाद सरप्राइज सेक्स सबसे बेहतरीन तरीका है, आपसी प्रेम को बढ़ाने का, जब कभी भी आप अपने साथी से बहुत दिनों के बाद मिलें या किसी व्यस्त कार्यक्रम में से वक्त निकाल कर प्रेम करें। जैसे पत्नी के मायके में या किसी और व्यस्तता में। इस प्रकार के सरप्राइज मिलन रिश्तों में न सिर्फ रोमांचकता बढ़ाते हैं, बल्कि आपके साथी को यह अहसास भी दिलाते हैं कि आप उनके लिए कितने दीवाने हो।

आदर्श यौन संबंधों के लिए दोनों का स्वस्थ होना आवश्यक है। यदि साथी किसी शारीरिक पीड़ा में है, तो उसे सेक्स के लिए विवश न करें। यह आपके संबंधों लिए घातक हो सकता है। यदि आप सेक्स के इच्छुक हैं तो अपने साथी को इसके लिए इच्छुक बनाएं। आप पूर्व क्रियाओं, मधुर संवादों या रोमांटिक फिल्मों और गानो के द्वारा ऐसा कर सकते हैं, सबसे उपर्युक्त समय वही होता है जब दोनों शरीर और मन प्रेमालाप के लिए आतुर हों। हालांकि सेक्स के लिए हर अनुकूलता वाला समय ठीक है फिर भी इन समयों पर किया गया सेक्स आपसी प्रेम और विश्वास को अधिक गहरा करता है।

यदि आप घर पर हैं तो आप दिन भर के काम सो पूरी तरह मुक्त होते हैं, और सुबह ऑफिस जाने के सिवाय कोई और काम नहीं होता इसलिए इस समय की ड्राइव तनाव रहित माधुर्य पूर्ण होती है। इसके अलावा रोमांटिक मूवी देखने के बाद दोनों की ही शारीरिक और मानसिक आकांक्षाएं एक जैसी हो जाती हैं जिससे, संवेदनाएं प्रबल हो जाती हैं, जिससे पारस्परिक सहयोग और आकर्षण बढ़ जाता है, जो न सिर्फ उत्तेजक ऊर्जा देता है बल्कि मानसिक स्वीकृतियां भी बढ़ाता है।

 

 

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

सियालदह तक मेट्रो की सौगात नए साल में

सियालदह तक मेट्रो शुरू करने की कवायद में जुटा प्रबंधन सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः ईस्ट वेस्ट मेट्रो कॉरिडोर के तहत कोलकाता मेट्रो रेलवे कॉरपोरेशन (केएमआरसीएल) ने सियालदह मेट्रो आगे पढ़ें »

ऊपर