खाना खाते समय रखें दिशाओं का ध्यान

कोलकाता : वास्तु शास्त्र में दिशाओं का विशेष महत्व है। वास्तु के अनुसार हर काम के लिए एक निश्चित दिशा भी तय की गई है। खाना बनाते समय या खाते समय अगर मुख गलत दिशा में हो तो कई परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। किस दिशा में बैठकर खाना खाते हैं, इसका भी व्यक्ति की सेहत पर असर पड़ता है। आइए वास्तु के अनुसार जानते हैं खाना खाते समय दिशाओं से संबंधित किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।
* वास्तु के अनुसार खाना खाते समय मुख पूर्व या उत्तर पूर्व दिशा की ओर होना चाहिए। इससे व्यक्ति को भोजन की उचित ऊर्जा मिलती है।
* पूर्व दिशा की ओर मुंह करके खाना खाने से बीमारियां दूर रहती हैं। बता दें कि पूर्व दिशा को देवताओं की दिशा माना जाता है।
*दक्षिण दिशा में भोजन करना अशुभ होता है, इससे व्यक्ति को पाचन समेत कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है।
* दक्षिण दिशा की ओर मुख करके भोजन करने से मान-सम्मान पर असाधारण प्रभाव पड़ता है।
* वास्तु के अनुसार खाना खाने के अलावा खाना नाते समय भी मुंह पूर्व या उत्तर पूर्व दिशा में ही रखना चाहिए।
* वास्तु शास्त्र में कहा जाता है कि हाथ-पैर और मुंह धोकर भोजन करने से व्यक्ति की आयु बढ़ती है।
* कभी भी टूटे या गंदे बर्तन में खाना नहीं खाना चाहिए, इससे दुर्भाग्य बढ़ता है। साथ ही जीवन में परेशानियों का सामना करना पड़ता है।
* कुर्सी पर बैठकर टांग हिलाते हुए भोजन करना अशुभ माना जाता है। साथ ही थाली को हाथ में उठाकर भी नहीं खाना चाहिए।
* खाने की टेबल को कभी भी खाली नहीं रखना चाहिए। डाइनिंग टेबल पर हमेशा खाने की चीज रखने से घर में बरकत होती है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

bumrah

भारतीय टेस्ट टीम से बाहर हुए बुमराह, चौथे टेस्ट में नहीं खेलेंगे

अहमदाबाद : तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को निजी कारणों से चौथे क्रिकेट टेस्ट के लिये भारतीय टीम से रिलीज किया गया है। बीसीसीआई ने यह आगे पढ़ें »

गैस की समस्या तुरंत होगी दूर, कर लें ये आसान उपाय

कोलकाताः गैस की दिक्कत को लोग गंभीरता से नहीं लेते हैं, लेकिन कभी-कभी ये इतनी ज्यादा बढ़ जाती है, कि सहन करना मुश्किल हो जाता आगे पढ़ें »

ऊपर