कोरोना से घबराएं नहीं, डब्ल्यूएचओ के इन सुझावों का करें पालन

नई दिल्ली : कोरोना वायरस से दुनिया भर में मौतें हो रही है और लाखों लोग इस से इंफेक्टेड हैं, भारत में इसके मामलों में लगातार वृद्धि हो रही है। दुनियाभर में इस बीमारी को लेकर इन दिनों हाई अलर्ट है और इस वायरस के प्रसार को कम करने या खत्म करने के लिए लॉक डाउन और सोशल डिस्टेंसिंग की बात कही जा रही है। हालाँकि घर बैठना और मौजूदा माहौल को लेकर परेशान होना स्वाभाविक है, यह स्थिति मानसिक स्वास्थ के लिए किसी भी हाल में अच्छी नहीं कही जा सकती। ऐसे में घर पर रहकर भी आप खुद को स्वास्थ और कनेक्टेड रख सकती हैं।

इंटरनेट के जरिये रहें कनेक्टेड
इस बीमारी को लेकर परेशान होने के बजाय सावधानी बरतें और लोगों से मिलना-जुलना कम करें, इससे थोड़ी परेशानी हो सकती है लेकिन आप लोगों से कनेक्टेड रह सकती हैं। वीडियो कॉल, फोन कॉल, टेक्स्ट मैसेज आदि के जरिए जुड़े रहें, इससे अकेलापन महसूस नहीं होगा। साथ ही आप मानसिक तौर पर भी अकेला महसूस नहीं करेंगी।

सही ख़बरों पर ही करें भरोसा
कोरोना वायरस को लेकर काफी अफवाहें भी फ़ैल रही है और इन अफवाहों को पढ़कर परेशान ना हो, प्रमाणिक स्त्रोतों से आई ख़बरों को ही सच मानें। भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय, विश्व स्वास्थ्य संगठन और सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल जैसी संस्थाओं की तरफ से आने वाली खबरों पर ही भरोसा करें और उनके दिए गए दिशा निर्देशों पर चलें।

पड़ोसियों से रहें कनेक्टेड
ऐसे समय में पड़ोसियों से कनेक्टेड रहें और एक दूसरे की जरूरतों का ख्याल रखें, एक निश्चित दूरी बनाकर आप एक दूसरे की मदद कर सकते हैं। कोरोना वायरस के कारण घर में अकेले सिमट जाना इसका उपाय नहीं है, इस स्थिति में डिप्रेशन, हार्ट डिजीज, कॉग्निटिव फंक्शन में कमी जैसी समस्याएं हो सकती हैं। आसपड़ोस के लोगों से चर्चा करते रहे और एक दूसरे से दुःख सुख बांटें।

घर में ही करें एक्सरसाइज और योग
आप बाहर जाने की बजाय इन दिनों घर में ही एक्सरसाइज करें, योग प्राणायाम, अनुलोम विलोम, कपाल भारती जैसे योग कोरोना में कारगर हैं। इससे घर में भी रहकर शरीर का फंक्शन सही काम करेगा और आप शारीरिक और मानसिक तौर पर स्वस्थ रहेंगी। इस से मन स्थिर रहेगा और चाहे तो ऑनलाइन योग क्लासेज भी ज्वाइन कर सकती हैं।

रूटीन सही रखें
कोरोना वायरस की खबरें सुन पढ़कर जी घबराना और निराशा आम बात है, लेकिन आप परेशान होने के बजाय अपना रूटीन सही रखें। अच्छी किताबें पढ़ें, परिवार के साथ रहें, ऑनलाइन कोर्स ज्वाइन करें- इन चीजों से आपको सकारात्मक उर्जा मिलेगी ।

डब्ल्यूएचओ ने दिए ये सुझाव

  • ऐसे समय में दुख, हताशा, निराशा स्वाभाविक है, लेकिन डरें नहीं, बल्कि लाइफ़स्टाइल सही रखें।
  • भरपूर डाइट और नींद ले, एक्सरसाइज , योग करें, फोन या ईमेल के जरिए अपनों से कनेक्टेड रहें।
  • परेशान हताश होकर  स्मोकिंग, एल्कोहल जैसे ड्रग्स का सहारा ना लें।
  •   ज्यादा परेशानी हो तो फोन के जरिये विशेषज्ञ से सलाह लें।
  • कोरोना को लेकर सही जानकारी रखें और स्वास्थ संबंधी निर्देशों का पालन करें।  डब्ल्यूएचओ की वेबसाइट या राज्य की पब्लिक हेल्थ एजेंसी से जोड़ी सूचनाओं से जानकारी हासिल करें। टीवी पर चलने वाली ख़बरें मानसिक स्वास्थ को प्रभावित कर सकती हैं । विषम परिस्थितियों से खुद को उबारने के लिए, स्किल्स को डेवलप करें और मजबूत बनें ।
शेयर करें

मुख्य समाचार

आयकर विभाग के हवाला कारोबारियों के यहां छापे, 62 करोड़ जब्त

नयी दिल्ली : कई शहरों में हवाला कारोबारियों और फर्जी बिल बनाने वालों पर छापे मारकर आयकर विभाग ने 62 करोड़ रुपये की नकदी जब्त आगे पढ़ें »

दु:स्वप्नों से छुटकारा पाने के कुछ आसान उपाय

  हम सबको कभी कभी दु:स्वप्न आया करते हैं। इससे हमारी नींद तो गड़बड़ हो ही जाती है, कमरे में या घर में और जो प्राणी आगे पढ़ें »

ऊपर